imran khan pak pm
imran khan pak pm

इस्लामाबाद/भाषा। पाकिस्तान सरकार ने प्रधानमंत्री आवास में भोजन संबंधी जरूरतों के लिए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा रखी गईं आठ भैंसों की नीलामी करने की योजना बनाई है। प्रधानमंत्री इमरान खान के एक करीबी सहयोगी ने यह जानकारी दी। दरअसल, खराब अर्थव्यवस्था से जूझ रही खान नीत पाक सरकार ने फिजूलखर्ची से बचने का अभियान चला रखा है।

इसके तहत 80 से अधिक आलीशान कारों की नीलामी की जाएगी। प्रधानमंत्री के राजनीतिक मामलों के विशेष सहायक नईम उल हक ने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री आवास में मौजूद आलीशान कारों की नीलामी करेगी।

वह कैबिनेट डिवीजन में बिना इस्तेमाल वाले चार अतिरिक्त हेलीकाप्टरों को भी बेचेगी। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के वरिष्ठ नेता ने ट्वीट करके कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा पीएम आवास में रखी गईं आठ भैंसों की नीलामी भी की जाएगी। उन्होंने संभावित खरीददारों से इसके लिए तैयार रहने को कहा।

पाकिस्तानी संसद का संयुक्त सत्र गुरुवार को
पाकिस्तान सरकार ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के लिए गुरुवार को संसद का संयुक्त सत्र बुलाया है और कार्यवाही सुचारु रूप से संपन्न कराने के वास्ते विपक्षी दलों से सहयोग भी मांगा है। सरकार ने इसके साथ ही शुक्रवार से नई राष्ट्रीय संसद का पहला नियमित सत्र बुलाया है, जिसमें वित्त मंत्री असद उमर शेष 10 महीनों के लिए नया बजट पेश करेंगे।

इससे पहले राष्ट्रीय संसद के अध्यक्ष असद कैसर ने सोमवार को यहां विभिन्न दलों के संसदीय सदस्यों की बैठक बुलायी थी। बैठक में सदस्यों को सरकार के एजेंडे के बारे में जानकारी दी गयी और इस संबंध में उनसे सहयोग मांगा। बहरहाल विपक्षी सदस्यों ने गत 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में गड़बड़ियों की जांच के लिए संसदीय समिति का गठन किए जाने की मांग की है। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर वह सदन की कार्यवाही सुचारु रूप से संचालित करना चाहती है तो उसे संयुक्त सत्र के आयोजन से पहले समिति गठित करनी चाहिए।

ये भी पढ़िए:
– ग़ज़ब: यहां लड़की ने अपने हाथ से खिलाया लड़के को खाना तो हो गई जेल!
– सेहत और सौभाग्य चाहते हैं तो रसोई में न करें ये गलतियां वरना हमेशा रहेंगे परेशान
– 41 साल तक चला 312 रुपए का मामला, महिला की मौत के बाद पक्ष में आया फैसला
– 9/11: इस शख्स ने की थी अमेरिकी खुफिया एजेंसी की मदद और मारा गया ओसामा

Facebook Comments

LEAVE A REPLY