नई दिल्ली। नीरव मोदी के स्वामित्व वाले एक शोरूम से कथित रूप से छह करो़ड रुपए के आभूषण खरीदने के मामले में आयकर विभाग ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी की पत्नी अनीता सिंघवी को नोटिस भेजकर इस खरीददारी के बारे में जानकारी मांगी है। इस बीच सिंघवी ने परिवार के खिलाफ लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए आयकर विभाग की इस कार्रवाई को परेशान करने वाला करार दिया क्योंकि उनका ताल्लुक विपक्षी दल से है।सूत्रों ने बताया कि अनीता सिंघवी को यह नोटिस मंगलवार को भेजा गया है। नोटिस में अनीता से पूछा गया है कि कुछ साल पहले हुई इस खरीददारी में कितनी रकम उन्होंने नकद दी थी और कितनी रकम चेक से दी थी। आयकर विभाग को इस बात का अंदेशा है कि इसके लिए अनीता ने डेढ करो़ड रुपए चेक से अदा किए थे और चार करोड ८० लाख रुपए नकद दिए थे। कर विभाग इस ट्रांजैक्शन और धन के स्रोत के बारे में पता करना चाहता है जो नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी के खिलाफ जारी कर वंचना की जांच का हिस्सा है। सघवी ने ट्वीटर के माध्यम से उनके खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों से इन्कार करते हुए कहा है कि वे झूठ हैं और कानून के अनुसार वह आयकर विभाग के नोटिस का जवाब देंगे। कांग्रेस नेता ने लिखा है, किसी की कंप्यूटर इंट्री के आधार पर मेरी पत्नी के खिलाफ कथित रूप से नकद आभूषण खरीद का आरोप लगाया गया है जो साक्ष्य नहीं है। एक करो़ड ५६ लाख रुपए की पूरी रकम चेक से अदा की गई है और रसीद के साथ देश के सबसे ब़डे टैक्स पेयर (स्वयं सिंघवी) के साथ लेखाबद्ध है। आयकर विभाग ने मंगलवार को गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक मेहुल चौकसी व सम्बद्ध फर्मों के २० परिसरों पर छापे मारे। अधिकारियों का कहना है कि यह छापेमारी कर चोरी के एक मामले में की गई है। अधिकारियों के अनुसार चौकसी व गीतांजलि जेम्स से जु़डी १३ कंपनियों के खिलाफ मुंबई, पुणे, सूरत, हैदराबाद, बेंगलूरु व कई अन्य शहरों में तलाशी की कार्रवाई की जा रही है। सूत्रों ने कहा कि आयकर विभाग के ११० अधिकारियों की टीम ने कुल मिलाकर २० परिसरों की तलाशी ली। विभाग ने हाल ही में चौकसी व गीतांजलि समूह के बैंक खातों व अन्य आस्तियों को कुर्क कर दिया था।

LEAVE A REPLY