बेंगलूरु/दक्षिण भारतप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर कर्नाटक में पांच साल में कोई काम नहीं करने और अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को नेशनल कॉलेज ग्राउन्ड में आयोजित जनसभा में कहा कि सिद्दरामैया सरकार जनता को अपने कामकाज का हिसाब देने में असमर्थ साबित हो रही है इसलिए उसके नेताओं ने अपनी हार सुनिश्चित देखते हुए बहाने खोजना शुरू कर दिया है। मोदी ने राज्य में १२ मई को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में विभिन्न रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार पांच साल तक सोती रही और उसने यहां के किसानों, युवाओं और कामगारों के हितों के लिए कोई काम नहीं किया। विधानसभा चुनाव में हार सामने दिखायी दे रही है इसलिए उसके मुखियाओं ने लोगों के बीच जाने की बजाय यह सोचना शुरू कर दिया है कि हार के क्या बहाने बतायेंगे। पराजय के लिए ईवीएम को दोष देने की अभी से योजना बना रहे हैं। राज्य की राजधानी बेंगलूरु को तबाह करने का सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि यहां एक पुलिस अधिकारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी। इस मामले में राज्य सरकार के एक मंत्री का नाम सामने आता है। इस तरह के लोगों को न सिर्फ सरकार से बल्कि पार्टी से भी बाहर कर देना चाहिए था लेकिन कांग्रेस सरकार ने ऐसा करने की बजाय उन्हें सरकार में जगह दी है।मोदी ने कांग्रेस पर पंजाब, पुड्डुचेरी और परिवार तक सीमित रहने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस सरकार ने बेंगलूरु जैसे महत्वपूर्ण शहर में सुधार लाने के लिए कोई काम नहीं किया है। यहां आए दिन ट्रेफिक जाम लगता है जिसके कारण लोगों के कार्यक्रम अव्यवस्थित हो रहे हैं्। उन्होंने कांग्रेस पर लोकायुक्त को कमजोर करने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस शासन में लोकायुक्त पर हमले हुए हैं्। कांग्रेस ने समाज को जाति में बांटने तथा तो़डने का प्रपंच किया है। इससे हमारे समाज का सौहार्द बिग़डा है। राज्य की कांग्रेस सरकार को अपने पांच साल के कामकाज का हिसाब देना प़डेगा।

LEAVE A REPLY