पत्तागोभी के हरे पत्ते में बेशुमार गुण भरे होते हैं। सामान्य समझी जाने वाली इस सब्जी में अनेक औषधीय गुण होते हैं। पत्तागोभी के नियमित सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। हाल ही में हुए अध्ययनों से पता चला है कि पत्तागोभी वजन घटाने में काफी लाभदायक साबित हुई है। स्वाद में मधुर, शीतल, हल्की व हृदय को ताकत प्रदान करने वाली पत्तागोभी में कैंसर को रोकने की अपार क्षमता होती है। यदि कैंसर के रोगी पत्तागोभी के ताजे पत्तों का सेवन प्रतिदिन सुबह खाली पेट करें, तो काफी फायदा होता है। चिकित्सकों का कहना है कि पत्तागोभी में एक ऐसा रसायन विद्यमान रहता है, जिसमें स्तन कैंसर पैदा करने वाले तत्वों की मात्रा घटाने की क्षमता होती है। आहार विशेषज्ञों के अनुसार पत्तागोभी में काफी मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। यह रेशेदार तत्वों से भरपूर है। यही नहीं, इसमें कुछ ऐसे तत्व मौजूद रहते हैं, जो मनुष्य के शारीरिक विकास व बुद्धि को तीव्र करने में सहायक होते हैं। यह सभी मौसम में पाई जाती है और इन्हें स्वस्थ आहार का हिस्सा माना जाता है। पत्ता गोभी कई रंगों और कई किस्मों में पाई जाती है। लाल और हरे रंग की पत्तागोभी सबसे ज्यादा मिलती है। इसे पका कर या कच्चे सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है। इसमें कई औषधीय गुण भी होते हैं, जिसे अपनाने के बाद कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से निजात पाया जा सकता है।* इसमें बहुत ज्यादा रेशा होता है जिसकी वजह से पाचन क्रिया अच्छे से होती है और पेट दुरुस्त रहता है। इस वजह से कब्ज की समस्या कभी नहीं हो पाती।* पत्तागोभी में लैक्टिक एसिड काफी मात्रा में होती है जो मांसपेशियों के चोटिल होने और उसे रिकवर करने में काफी सहायक होती है।* पत्तागोभी, पेप्टिक अल्सर के इलाज में सहायक होती है। इस रोग से पीि़डत व्यक्ति अगर बंदगोभी का नियमित सेवन करे तो उसे आराम मिल सकता है क्योंकि इसमें ग्लूटामाइन होता है जो अल्सर विरोधी भी होता है।* हाल ही में हुए शोध से पता चला है कि पत्तागोभी में विटामिन की भरपूर मात्राएं पाई जाती हैं, जिससे अल्जाइमर की समस्या दूर हो जाती है।* पत्तागोभी के सेवन से मोतियाबिंद का खतरा कम होता है। इसके लगातार सेवन से बॉडी में बीटा केराटिन बढ जाता है, जिससे आंखें सही रहती हैं।* यह अमीनो एसिड में सबसे समृद्ध होता है जो सूजन आदि को कम करने में भी मददगार साबित होता है।* बंदगोभी में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है जो शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाए रखता है।

LEAVE A REPLY