सर्दियों का सीजन आते ही तमाम तरह की सब्जियां भूख के साथ ही लालच भी ब़ढा देती हैं जिससे कई बार जरूरत से ज्यादा खाना खा लेते हैं। हालांकि सर्दियों में डाइजेशन की उतनी प्रॉब्लम नहीं होती लेकिन कैलोरी और कोलेस्ट्रॉल तो ब़ढता ही है। हेल्दी खाने के साथ ही अनहेल्दी आदतों से कैसे दूर रहा जा सकता है यह जानना जरूरी है। ये हेल्दी ऑप्शन कई तरह की बीमारियों को भी दूर रखने में कारगर होते हैं।झ्य्द्मर्‍ झ्र्‍त्रर्‍ द्यब्ष्ठ्रसर्दियों में कोल्डड्रिंक्स और हार्ड ड्रिंक्स का सेवन करने से बचें। चाय और कॉफी भी इस सीजन में डेली रुटीन से ज्यादा हो जाता है। इसलिए इसका इस्तेमाल भी कम करें। पानी जरूर पिएं। कोशिश करें कि पानी रूम टेम्प्रेचर वाला ही हो। ज्यादा ठंडा पानी पीना भी सेहत के लिए ठीक नहीं है। सबसे खास बात, खाना खाने के तुरंत बाद पानी न पिएं।ठ्ठष्ठह्नय्ट्टश्च ·र्ैंर्‍ द्बय्ख़य्य् ·र्ैंद्ब ध्ष्ठ्रसर्दियों में डेजर्ट की मात्रा डाइट में अपने आप ब़ढ जाती है। इस पर ध्यान दें। दिन की चार में से एक ही मील में डेजर्ट लें। आइसक्रीम और डोनट जैसे डेजर्ट लेने से बचें। इनमें फैट्स की मात्रा काफी होती है।त्रय्ज्ष्ठ र्ड्डैंध् क्वय्ॅैंइस सीजन में घर पर मौजूद पहले से सक्ैक्स और मिठाई खाने से बचें। उन्हें पूरे दिन में सिर्फ एक बार ही लें। बाकी दिन में भूख लगे तो फ्रेश फ्रूट लें। इससे एनर्जी मिलेगी, और भूख भी मिट जाएगी।द्मर्‍्रख्र ब्स् फ्द्धफ्ष्ठ ह्नर्य्चैंद्यर्‍एक्सपर्ट कहते हैं कि खाना खाने के चार घंटे बाद ही सोना चाहिए। इससे खाना पेट में पूरी तरह पच जाता है। अगर इस दौरान भूग लगे तो फ्रेश फ्रूट्स लें। कम से कम आठ घंटे की नींद जरूर लें। इससे शरीर और दिमाग को पूरी तरह से रेस्ट मिलेगा और आप अगले दिन फ्रेश रहेंगी।ॅ€फ्द्यफ्य्ंह्नय् ·र्ैंद्यद्मय् द्म द्नरूध्ष्ठ्रइस सीजन में आलस और मन दोनों ही सुबह उठने की इजाजत नहीं देते जिससे एक्सरसाइज करने की हिम्मत नहीं रहती। इसलिए टाइम निकालकर कुछ वक्त वॉक जरूर करें। वॉक करने से आपके बॉडी मसल्स पहले की तरह काम करते रहेंगे और आपको होनी वाली थकान से भी छुटकारा मिल जाएगा। रोजाना १५ मिनट की वॉक भी काफी होगी।क्वय्द्मय् च्णह्ठ्ठणक्कद्मय् ट्ठर्‍·र्ैं द्मब्र्‍्रअकसर इस सीजन के दौरान किसी न किसी बहाने खाना ज्यादा हो जाता है, और उसे ठीक करने के चक्कर में लंच या डिनर छो़डना बेहतर आइडिया नजर आता है। जबकि ऐसा करना गलत है। लंच और डिनर जरूर करें, लेकिन उसकी मात्रा कम कर दें। चावल का इस्तेमाल कम कर दें। ऑयली फूड बिल्कुल न लें। यह डाइट सेहत को ठीक रखेगी।

LEAVE A REPLY