fire in metro hospital
fire in metro hospital

नोएडा/दक्षिण भारत। नोएडा के सेक्टर-12 स्थित मेट्रो अस्पताल में गुरुवार दोपहर को आग लग गई। इससे यहां अफरातफरी मच गई। सूचना के बाद दमकल की गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं। हालात के मद्देनजर अस्पताल के शीशे तोड़कर मरीजों को बाहर निकाला गया। यहां से मरीजों को सेक्टर-11 स्थित अस्पताल की शाखा में भर्ती कराया गया। आग लगने के बाद अस्पताल में धुआं भर गया था। इससे मरीजों को काफी परेशानी हुई। बताया गया कि पांच मंजिला अस्पताल की दूसरी मंजिल स्थित आईसीयू में सबसे पहले आग लगी, जो बाद में फैल गई। दमकल की छह गाड़ियों ने आग पर दो घंटों में काबू पाया।

इस घटना में किसी के हताहत होने के समाचार नहीं हैं। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दोपहर को उन्होंने अस्पताल की इमारत से अचानक धुएं का गुबार निकलते देखा। इसके बाद दमकल और स्थानीय प्रशासन को सूचित किया गया। लोगों ने अस्पताल के शीशे तोड़े ताकि मरीजों को तुरंत बाहर निकाला जा सके। अस्पताल की चौथी मंजिल से काफी देर तक मरीजों को बाहर निकाला जाता रहा। आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है। इसकी जांच की जा रही है। घटना के समय यहां दो दर्जन से ज्यादा मरीज फंसे हुए थे, जिन्हें बाद में सुरक्षित निकाला गया।

अस्पताल की अग्निशमन व्यवस्था पर भी कई सवाल उठ रहे हैं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यहां लगे यंत्र काम नहीं कर रहे थे। इससे आग बढ़ती गई। धुआं फैलने से दम घुटने का खतरा रहता है। ऐसे में खिड़कियों के शीशे तोड़ने पड़े। रस्सियां लटकाकर काफी मशक्कत के बाद लोगों को नीचे उतारा गया। इस संबंध में अग्निशमन अधिकारी अरुणवीर सिंह ने बताया कि घटना के दौरान कोई मरीज घायल नहीं हुआ। उन्होंने यहां से बाहर निकाले मरीजों की तादाद करीब तीन दर्जन बताई है। बता दें कि आग लगने की सूचना के बाद लोग अपनों की फिक्र कर यहां पहुंचे। सोशल मीडिया पर तस्वीरें वायरल होने से लोगों ने ​फोन कर यहां भर्ती परिचितों का हालचाल जाना।

LEAVE A REPLY