The Deputy Election Commissioners, Shri Chandra Bhushan Kumar and Shri Sudeep Jain holding a press conference on completion of voting in Meghalaya & Nagaland, in New Delhi on February 27, 2018.

नई दिल्ली/भाषानिर्वाचन आयोग ने बुधवार को एक उप चुनाव आयुक्त को विशेष पर्यवेक्षक के रूप में कर्नाटक भेजा। इसने राज्य के राजराजेश्वरी नगर विधानसभा क्षेत्र में करीब १०,००० फर्जी मतदाता पहचान पत्र (वोटर आईडी कार्ड) बरामद होने के बाद यह कदम उठाया है। आयोग के अधिकारियों ने बताया कि उप चुनाव आयुक्त चंद्रभूषण कुमार को आज दोपहर कर्नाटक भेजा गया और वह यथाशीघ्र आयोग को एक रिपोर्ट सौंपेंगे। गौरतलब है कि राज्य में १२ मई को मतदान होना है। सूत्रों ने राज्य के चुनाव तंत्र द्वारा उपलब्ध कराए गए ब्योरे का जिक्र करते हुए कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि बरामद किए गए कुछ कार्ड दिखने में असली लग रहे हैं। एक अधिकारी ने बताया कि अब हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि वास्तविक मतदाता मतदान कर सकें। साथ ही, प्रशासन को यह सुनिश्चित करना होगा कि किसी मतदाता को डराया धमकाया नहीं जाए।कर्नाटक के मुख्य चुनाव अधिकारी संजीव कुमार ने राज्य में संवाददाताओं से कहा कि अब तक दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच जारी है। इस घटना को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच जुबानी जंग चल रही है। दोनों पार्टियां एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं।

LEAVE A REPLY