old currency symbolic pic
old currency symbolic pic

वडोदरा। गुजरात के एक गांव में लोगों को 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोट मिले हैं। ये नोट यहां नर्मदा नदी में बह रहे थे। जानकारी के अनुसार, वडोदरा के मालसर गांव में ग्रामीणों को नदी में बहते पुराने नोट मिले। इसके बाद यहां काफी संख्या में लोग इकट्ठे हो गए। नदी में बहते नोटों को हासिल करने के लिए कुछ लोगों ने पानी में छलांग लगाई और उन्हें निकाल लाने में कामयाब रहे। हालांकि ग्रामीणों की यह मशक्कत उन्हें कोई फायदा नहीं दिला पाई क्योंकि ये सभी नोट अब प्रचलन में नहीं हैं। अब बाजार में इनकी कोई कीमत नहीं है।

जब यह खबर गांव में फैली तो लोग हैरान रह गए। उन्हें इस घटना की जानकारी गुरुवार दोपहर को मिली। इस वक्त कई लोग नदी किनारे नहाने आते हैं। कुछ लोगों ने तो अपनी जान की परवाह न कर नदी में छलांग लगा दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने ये नोट जब्त कर लिए हैं।

पुलिस को 1,000 रुपए के 36 और 500 रुपए के दो नोट मिले हैं। वहीं अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस उन लोगों की तलाश में जुटी है जिन्होंने ये नोट नदी में डाले हैं। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को राष्ट्र को संबोधित करते हुए 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोट बंद कर दिए थे।

इसके बाद बैंकों के बाहर भारी भीड़ उमड़ी। नोट बदलने की तय तारीख के बाद कई स्थानों पर पुराने नोट फेंके हुए मिले। इन नोटों का कालेधन से संबंध बताया जा रहा है, जिन्हें बैंकों में जमा नहीं कराया गया और अब मूल्यहीन होने के कारण फेंकने के ​अलावा कोई चारा नहीं रहा।

ये भी पढ़िए:
– नकली बाजूबंद गिरवी रख कई ज्वैलर्स से की 2 करोड़ की ठगी, अपनाया यह शातिर तरीका
– सेहत के लिए आज ही अपना लें ये अच्छी आदतें वरना वक्त से पहले आ जाएगा बुढ़ापा
– सोशल मीडिया पर खुराफात, अटलजी के नाम पर उड़ा दी यह अफवाह
– गूगल दे रहा एक लाख रुपए तक का इनाम, आपने पढ़ा क्या?

LEAVE A REPLY