टोक्यो। जापान की राजधानी में सोमवार को द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद पहली बार हमले के दौरान लोगों को बाहर निकालने का एक सैन्य अभ्यास किया गया, जिसमें सैक़डों लोग शामिल हुए। यह अभ्यास ऐसे समय किया गया है जब उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को लेकर तनाव कायम है। अभ्यास के दौरान टोक्यो के एक एम्यूजमेंट पार्क में लाउडस्पीकर से कहा गया, हमें जानकारी मिली है कि मिसाइल प्रक्षेपण किया गया है। कृपया शांतिपूर्वक बाहर निकल जाएं या भूमिगत हो जाएं। इसके थो़डी देर बार लाउडस्पीकर से दूसरा संदेश जारी किया गया, मिसाइल गुजर गई। मिसाइल कांतो क्षेत्र से होकर प्रशांत सागर की ओर चली गई।जापान में भूकंप के खतरे वाले क्षेत्रों में लोग इससे परिचित हैं क्योंकि स्कूलों, कार्यस्थलों से लेकर संरक्षण गृहों और शहर में लगभग हर जगह प्राकृतिक आपदाओं, आग आदि से जु़डे ऐसे (लोगों को निकालने के अभ्यास) वार्षिक अभ्यास आमतौर पर किए जाते हैं।बहरहाल, टोक्यो में उत्तर कोरिया से मिसाइल हमले के खतरे के मद्देनजर किया गया यह अभ्यास एक नया विचार है। हालांकि पिछले साल जापान के अन्य भागों में ऐसे ही अभ्यास किए गए थे।

LEAVE A REPLY