इंदौर। देश में प्रति किलोमीटर किराये के पैमाने पर यात्री विमान और ऑटो रिक्शा की तुलना करते हुए नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने शनिवार को दावा किया कि देश में हवाई यात्रा अब तिपहिया वाहन से सफर के मुकाबले सस्ती हो गई है। सिन्हा ने इंदौर मैनेजमेंट एसोसिएशन (आईएमए) के २७वें अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन अधिवेशन में कहा, भारत में आज हवाई जहाज का किराया ऑटो रिक्शा से कम है। कुछ लोग कहेंगे कि मैं बकवास कर रहा हूं लेकिन यह सच है। उन्होंने अपने दावे का गणित समझाते हुए कहा, इन दिनों यात्रियों को दिल्ली से इंदौर की हवाई यात्रा पर महज पांच रुपए प्रति किलोमीटर का खर्च आता है। लेकिन अगर आप इस शहर में कोई ऑटो रिक्शा लेते हैं, तो आपको आठ या १० रुपए प्रति किलोमीटर की अपेक्षाकृत ऊंची दर से किराया चुकाना प़डता है। सिन्हा ने कहा, दुनिया में सबसे सस्ते हवाई किराये के कारण देश के कई लोग हवाई सफर कर रहे हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी अपने हालिया बजट भाषण में कहा था कि हवाई चप्पल पहनने वाला शख्स भी अब हवाई जहाज में उ़ड रहा है। उन्होंने बताया कि चार साल पहले देश में हर साल हवाई यात्रा करने वाले लोगों की संख्या ११ करो़ड थी, जबकि ३१ मार्च को खत्म होने जा रहे मौजूदा वित्तीय वर्ष में इस आंक़डे के ब़ढकर २० करो़ड के स्तर पर पहुंचने की उम्मीद है। नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री ने कहा, हम आने वाले सालों में हवाई यात्रा करने वाले लोगों की वार्षिक तादाद को पांच गुना ब़ढाकर १०० करो़ड पर पहुंचाना चाहते हैं। सिन्हा ने कहा कि अमेरिका और चीन जैसी ब़डी अर्थव्यवस्थाओं को पछा़ड कर भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए आम लोगों से जु़डी सेवाओं को ब़डे पैमाने पर चलाकर किफायती बनाना होगा।

LEAVE A REPLY