Heavy Rain in Kerala
Heavy Rain in Kerala

तिरुवनंतपुरम। केरल में भारी बारिश के बाद हालात बिगड़ते जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार, अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है। बारिश के बाद कई स्थानों पर बाढ़ आ गई और भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं। बढ़ते जलस्तर के कारण कई इमारतों और सार्वजनिक महत्व के स्थानों में पानी घुसने के समाचार हैं। स्थिति पर काबू पाने के लिए जिलों में कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। थलसेना और वायुसेना के साथ एनडीआरएफ की टीमें बचाव एवं राहत कार्यों में जुटी हैं।

अब तक कई लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है। प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में भारी बारिश होने के कारण यह स्थिति पैदा हुई है। आम लोगों का जीवन अस्तव्यस्त हो गया है। बाढ़ का पानी घुसने से कई मकानों में दरारें आ गई हैं। लोग प्रार्थना कर रहे हैं कि बारिश थमे ताकि जनजीवन सामान्य हो सके।

तेज बरसात के कारण यहां पेरियार नदी का जलस्तर बढ़ गया है। पानी की भारी आवक होने के कारण 24 बांधों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। इदुक्की बांध में पानी खतरे के निशान को पार कर ​गया है। प्रशासन ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए कई इलाकों में रेड अलर्ट जारी कर दिया है।

स्थिति से निपटने के लिए नौसेना के जवान भी जुट गए हैं। उन्होंने पानी के बीच से कई लोगों को निकालकर उनकी जान बचाई है। विभिन्न रिपोर्टों में बताया गया है कि वायनाड और इदुक्की में ज्यादा क्षति पहुंची है। यहां के एर्नाकुलम में दो गांवों में राहत शिविर चलाए जा रहे हैं। मौसम विशेषज्ञ कहते हैं कि दक्षिण-पश्चिमी मानसून की वजह से प्रदेश में भारी बारिश हुई है, जो बाढ़ एवं भूस्खलन का कारण बनी। ऐसे में सावधानी बरतनी चाहिए। बाढ़ व भूस्खलन प्रभावित इलाकों में यथासंभव यात्रा नहीं करनी चाहिए।

ये भी पढ़िए:
केजरीवाल ने दिया विपक्ष को झटका, मोदी के खिलाफ महागठबंधन में नहीं होंगे शामिल
आतंकियों से लड़ते शहीद हुआ इकलौता बेटा, पिता बोले- ‘गर्व है कि देश के काम आया’
युवती ने तकनीकी सूझबूझ से एक दिन में ढूंढ़ा स्मार्टफोन, चोर को किया पुलिस के हवाले

Facebook Comments

LEAVE A REPLY