तिरुवनंतपुरम। कांग्रेस की युवा इकाई भारतीय युवा कांग्रेस (आईवाईसी) के एक कार्यकर्ता की हत्या की सीबीआई जांच की मांग कर रहे संगठन कार्यकर्ताओं की हिंसक भी़ड को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने सोमवार को आंसू गैस के गोले दागे और उन पर लाठियां बरसाई। युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता राज्य सचिवालय के सामने प्रदर्शन कर रहे थे। सचिवालय के पास पुलिस ने जब युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को रोका तो हिंसा भ़डक गई और उन्होंने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और लाठियां बरसाई। बीते १२ फरवरी की रात को कथित तौर पर माकपा के कुछ कार्यकर्ताओं ने सुहैब नाम के एक युवा कांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड में अब तक माकपा के पांच कार्यकर्ता गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. सुधाकरण और युवा कांग्रेस के अध्यक्ष दीन कुरियाकोस की ओर से क्रमश: कन्नूर कलक्ट्रेट और राज्य सचिवालय के सामने की जा रही भूख ह़डताल का सोमवार को आठवां दिन है। वे सभी आरोपियों की गिरफ्तारी और हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। इस मुद्दे पर सोमवार को राज्य विधानसभा में भी हंगामा हुआ। विपक्षी कांग्रेस की अगुवाई वाले एलडीएफ ने उस वक्त सदन की कार्यवाही बाधित की जब मुख्यमंत्री पी विजयन ने सीबीआई जांच कराने की उनकी मांग खारिज कर दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य पुलिस प्रभावी, निष्पक्ष एवं वैज्ञानिक जांच कर रही है। उन्होंने हत्या की निंदा करते हुए कहा कि इस मामले में सभी आरोपियों की गिरफ्तारी होगी।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY