चेन्नई। मुख्यमंत्री ईडाप्पाडी के पलानीस्वामी ने राज्य सचिवालय स्थित अपने कार्यालय से राज्य हिन्दू धर्म एवं धमार्थ दान विभाग के लिए निर्मित भवनों का शुभारंभ वीडिया कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा शनिवार को एक विज्ञप्ति जारी कर इस बात की जानकारी दी। विज्ञप्ति में बताया गया है कि मुख्यमंत्री ने गुरुवार को इन भवनों का शुभारंभ किया। उन्होंने जिन भवनों का उद्घाटन किया उनका निर्माण १.६८ करो़ड रुपए की लागत से किया गया है।मुख्यमंत्री ने तिरुत्तनी स्थित अर्कट कुप्पम श्री चूलेश्वरर मंदिर में निर्मित विवाह भवन, देवसोम हायर सेकेंडरी स्कूल में निर्मित चार कक्षाओं, कन्याकुमारी जिले के तोलवै स्थित श्री कृष्णास्वामी मंदिर स्थित एक भोजन कक्ष का शुभारंभ किया। विवाह भवन का निर्माण विभाग द्वारा ७० लाख रुपए की लागत से किया गया है। इस विवाह भवन का निर्माण ५७०० वर्ग फिट के भूखंड पर किया गया है। यह विवाह भवन एक मंजिल का है और इसमें एक बार में २०० लोग मौजूद रह सकते हैं।मुख्यमंत्री ने देवसोम हायर सेकेंडरी स्कूल में जिन कक्षाओं का शुभारंभ किया उनका निर्माण ५४.५० लाख रुपए की लागत से किया गया है। इन कक्षाओं का निर्माण २६४१ वर्ग फिट पर किया गया है और इनमें एक साथ १७५ विद्यार्थी बैठ सकते हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने श्री कृष्णास्वामी मंदिर में स्थित जिस भोजन कक्ष का शुभारंभ किया उसका निर्माण १७०६ वर्ग फिट पर किया गया है और इसमें ३० लाख रुपए की लागत आई है। इस भोजन कक्ष में एक बार में ५० लोग बैठकर भोजन कर सकते हैं। तिरुप्पुरै वाहन मंडपम का निर्माण १२.६० लाख रुपए की लागत से किया गया है। यह मंडपम मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं और मंदिर मंें सेवा देने वाले लोगों के वाहनों को सुरक्षित रखने में मददगार होगा। इन भवनों का शुभारंभ होने के बाद हिन्दू धार्मिक और धमार्थ दान मंत्री सेव्वूर रामचंद्रन ने कहा कि सरकासर द्वारा विभाग के अधीन आने वाले मंदिरों में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने पर ध्यान दिया जा रहा है और इसी क़डी में मुख्यमंत्री ने विभाग के इन भवनों का उद्घाटन किया है। उन्होंने बताया कि हिन्दू धार्मिक और धमार्थ दान विभाग राज्य पर्यटन विभाग के साथ मिलकर कई स्थानों पर ढांचागत सुविधाआंें का निर्माण करने की योजना बना रही है। इस अवसर पर मंत्री सेव्वूर रामचंद्रन, विधायक के मोहन, मुख्य सचिव डॉ गीरिजा वैद्यनाथन, पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव अपूर्वा वर्मा, हिन्दू धर्म और धमार्थ दान विभाग के आयुक्त आर राजा और अन्य वरिष्ठ सरकारी अधिकारी उपस्थित थे।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY