चेन्नई। मंगलवार देर रात शहर के १०० पुलिसकर्मियों ने एक सघन अभियान चलाकर बिल्कुल फिल्मी अंदाज में एक साथ ७५ बदमाशों को हिरासत में ले लिया। इन शहर के निकट एक फॉर्म हाउस से गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने इस अभियान को पूरा करने के लिए चार टीमों का गठन किया था। इस कार्रवाई के दौरान लगभग ७५ अन्य बदमाश पुलिस को देखने के बाद वहां से भागने में सफल रहे और पुलिस इन फरार बदमाशों की भी तलाश कर रही है। दरअसल इतनी ब़डी संख्या में शहर में विभिन्न प्रकार की आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने वाले अपराधी आपसी रंजिश भुलाकर एक कुख्यात वांछित अपराधी के जन्मदिन पार्टी पर एकजुट हुए थे।अम्बत्तूर पुलिस के एक रात्रि गश्त वाहन ने ताम्बरम के निकट एक तेजी से मोटरसाइकिल पर सवार होकर जा रहे दो लोगों को रोका। इन दोनों में से एक की पहचान मदन के रुप में हुई जो कि एक बदमाश था। शहर के कुछ पुलिस स्टेशनों में उसके खिलाफ मामले दर्ज हैं। इस व्यक्ति ने पुलिस को बताया कि वह हत्या के कई मामलों में फरार चल रहे बीनू नामक एक वांछित अपराधी के जन्मदिन में शामिल होकर आ रहा है।गौरतलब है कि बिनु के सेवानिवृत्त स्कूल शिक्षक का पुत्र है और उसके खिलाफ हत्या के ८ मामले दर्ज हैं। मदन से इस बात की सूचना मिलने के बाद पुलिस इंस्पेक्टर सुरेश एवं इलंगनी ने इसकी सूचना अपने अधिकारियों को दी और खुद मयिलमपाक्कम स्थित फॉर्म हाउस पर दबिश दी। इसी क्रम में पुलिस उपायुक्त एस सर्वेश राज को इस बात की सूचना दी गई जिन्होंने मंगाडु, कुंड्रातुर, पूनामल्ली, नासरतपेट, पोरुर और एसआरएमसी से अन्य पुलिस बलों को फॉर्म हाउस पर सफल ढंग से अभियान को अंजाम देने के लिए रवाना किया।वाशरमेनपेट के उपायुक्त जी शशांक और सर्वेश ने चार विशेष टीमों में बंटकर पहुंचे सौ पुलिसकर्मियों की मदद से पूरे फॉर्महाउस को चारों ओर से घेर लिया। इसके साथ ही पुलिस ने ५० नागरिकों की भी मदद ली। कुल १५० लोगों की मदद से इन बदमाशों को एक साथ पक़डने का व्यापक अभियान शुरु किया गया। इस बर्थडे पार्टी में लगभग १५० लोग शामिल हो रहे थे जिनमें ज्यादातर आसामाजिक तत्व थे। इसके साथ ही इस पार्टी में अधिवक्ता और पत्रकार भी शामिल थे। पुलिस की दबिश देने के बाद जैसे ही वहां मौजूद बदमाशों को इसकी भनक लगी उन्होंने वहां से भागना शुरु कर दिया। बिनू और उसके ७५ साथी पुलिस की इस कार्रवाई में तो बच निकलने में कामयाब हो गए लेकिन मौके पर मौजूद अन्य ७५ बदमाशों को पुलिस ने दबोच लिया।पुलिस ने गन प्वाइंट पर बिल्कुल फिल्मी अंदाज में ७५ बदमाशों को हिरासत में ले लिया। इन बदमाशों के पास से तलवार, चाकू, कुल्हा़डी और आठ कार तथा ३८ मोटरसाइकिल जब्त किए गए। यह अभियान मंगलवार रात शुरु हुआ और बुधवार सुबह ५.३० बजे समाप्त हुआ। पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई में दो पुलिस उपायुक्त और ८ इंस्पेक्टर और १६ सब इंस्पेक्टर शामिल थे। बदमाशों को पूनामल्ली, मंगाडु, पोरुर और अन्य स्थानीय पुलिस स्टेशनों में रखा गया है।सूत्रों के अनुसार बदमाश जब जुटे तो उन्होंने आतिशबाजी की जिससे लोगों का ध्यान उस ओर गया। इसके बाद वहां मौजूद एक व्यक्ति ने एक दरांती से केक काटते बीनू की तस्वीर ले ली और उसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों को भेजा। यह तस्वीर वायरल हो गई और पुलिस के पास पहुंची। इसके साथ ही कुछ लोगों से भी इस बात की जानकारी मिली और एक बदमाश पुलिस की पक़ड में आ गया जिससे पुलिस को इस बात की पुष्टि हो गई कि बीनू वहां मौजूद है और उसे पक़डा जा सकता है इसलिए यह पूरा अभियान तत्काल चलाया गया। पुलिस अब सभी बदमाशों से पूछताछ कर रही है और उनके खिलाफ लंबित मामलों के बारे में प़डताल कर रही है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY