चेन्नई। मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने बुधवार को राज्य पुलिस विभाग को दिवाली का विशेष तोहफा दिया। राज्य भर में पुलिस विभाग के प्रशासनिक भवनों, पुलिस स्टेशनों और पुलिस क्वार्टरों की स्थिति दयनीय है और पुलिसकर्मियों द्वारा समय-समय पर इस ओर सरकार का ध्यान आकृष्ट किया जाता रहा है। पुलिसकर्मियों की इस समस्या को समझते हुए सरकार ने पुलिस विभाग के लिए कई ढांचागत परियोजनाएं शुरु की थी जिनके पूरा होने पर बुधवार को राज्य सचिवालय से मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफें्रसिंग द्वारा इनका शुभारंभ किया। यह मुख्यमंत्री की ओर से राज्य पुलिस विभाग के लिए दिवाली का विशेष तोहफा माना जा सकता है।मुख्यमंत्री ने बुधवार को १२.७१ करो़ड रुपए की लागत से तैयार एक पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र, ७५.९५ लाख रुपए खर्च कर बनाए गए प्रशासनिक भवन और १६.६८ करो़ड रुपए की लागत से सेलम के मेट्टूर में निर्मित २०० पुलिस क्वार्टरों का उद्घाटन किया। उन्होंने ४२.७७ करो़ड रुपए की लागत से निर्मित कुल ३८१ पुलिस क्वार्टरों, ४ पुलिस स्टेशनों, पुलिस विभाग के तीन भवनों, निगरानी एवं भ्रष्टाचार रोधि विभाग के ७ कार्यालयों, जेल विभाग के पुलिसकर्मियों के लिए ५० क्वार्टरों और ६४.९२ करो़ड रुपए की लागत से निर्मित मॉडल बम संग्रहालय का भी शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने बुधवार को जिन पुलिस क्वार्टरों का शुभारंभ किया उनमें चेन्नई के न्यू धोबीपेट में निर्मित २४ पुलिस क्वार्टर, कोयंबटूर के कोट्टूर में १९ पुलिस क्वार्टर, रामनाथपुरम में १४ पुलिस क्वार्टर, थेनी में १४ पुलिस क्वार्टर, तिरुवल्लूर के आवडी में १५४ पुलिस क्वार्टर, तिरुनेलवेली में ३४ पुलिस क्वार्टर और तुतिकोरन के कुलशेखरपट्टिनम में निर्मित ५९ पुलिस क्वार्टर शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य के कई हिस्सों में पुलिस क्वार्टरों की स्थिति जर्जर हो चुकी थी और पुलिसकर्मी लंबे समय से पुलिस क्वार्टरों की मरम्मत और नए पुलिस क्वार्टरों के निर्माण की मांग कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर तमिलनाडु पुलिस के आधिकारिक फेसबुक पेज को भी लांच किया।मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता ने अपने कार्यकाल के दौरान कठिन परिस्थितियों के बावजूद लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने वाले पुलिसकर्मियों के कल्याण के लिए कई योजनाएं शुरु की और मौजूदा सरकार उन योजनाओं को आगे बढा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग को कार्य करने के लिए बेहतर माहौल मिल सके इस उद्देश्य से सरकार ने इन सभी परियोजनाओंे का शुभारंभ किया है। उन्होंने कहा कि राज्य की पुलिस अपराध को नियंत्रित करने और कानून व्यवस्था बहाल रखने में काफी सराहनीय कार्य कर रही है और हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में भी यह अपने कार्यों को इसी प्रकार जारी रखेगी। इस अवसर पर राज्य के कानून एवं जेल मंत्री सीवी षन्मुगम, मुख्य सचिव गीरिजा वैद्यनाथन और अन्य सरकारी अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY