चेन्नई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने सोमवार को विधानसभा में कहा कि निजी कारणों जैसे पारिवारिक समस्या, स्वास्थ्य और प्रेम प्रसंग के कारण पुलिसकर्मियों की आत्महत्या करने पर रोक लगाने के लिए विभाग ने कई कदम उठाए हैं। बजट पर बहस के दौरान द्रवि़ड मुन्नेत्र कषगम (द्रमुक) के बी रंगनाथन ने चार मार्च को पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता के स्मारक पर कांस्टेबल अरुणराज की आत्महत्या और सात मार्च को अयानावरणम थाना परिसर में उप निरीक्षक सतीश कुमार की आत्महत्या का हवाला दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने उनके बयानों के बीच में हस्तक्षेप करते हुए कहा कि जांच में सामने आया है कि दोनों पुलिसकर्मियों ने निजी समस्याओं के कारण आत्महत्या की। उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि पुलिसकर्मियों पर काम के बोझ को कम किया जाए और उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखा जाए। पलानीस्वामी ने कहा कि साप्ताहिक अवकाश देना सुनिश्चित करने के अलावा निगमों में उनके काम का समय अधिकतम आठ घंटे करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा, ‘योग प्रशिक्षण के अलावा नियमित चिकित्सा शिविर हो।‘

LEAVE A REPLY