बीदर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने वादा किया कि चुनाव के बाद किसानों के कर्ज माफ कर दिए जाएंगे। उन्होंने इस बात से इंकार किया कि कारपोरेट और ब़डे व्यापारियों के कर्ज माफ कर दिए गए हैं।हुमनाबाद शहर गन्ना किसानों को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोप का खंडन करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता कहते ही रहते हैं कि भाजपा सरकार ने औद्योगिक कर्ज माफ कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि मैं साफ-साफ कह देना चाहता हूं कि मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद किसी भी व्यापारी का एक पैसे का भी कर्ज माफ नहीं हुआ है। राहुल गांधी सही नहीं कह रहे हैं।’’ उनके अनुसार मोदी सरकार के सामने कारपोरेट कर्ज माफी का कोई प्रस्ताव नहीं है। उन्होंने राहुल गांधी को आरोपों के प्रमाण लाने की चुनौती दी। वे कहते हैं, अगर मोदी सरकार ने कारपोरेट और उद्योगपतियों को कर्ज माफ किए होंगे तो मैं कर्नाटक की जनता से माफी मांगने को तैयार हूं्।’’ पंजाब नेशनल बैंक के ११,४०० हजार करो़ड के घोटाले सहित अनेक बैंक घोटालों के मद्देनजर अमित शाह का यह बयान आया। गौरतलब है कि पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी का नाम सामने आया है। नीरव मोदी देश छो़ड पर जा चुके हैं। राहुल गांधी ने मोदी सरकार को इन घोटालों के लिए जिम्मेदार बताया था और अपराधियों को न पक़ड पाने के लिए सरकार की आलोचना भी की थी। बहरहाल, अमित शाह ने यह भी कहा कि गन्ना किसानों को कई सुविधा देने के लिए मोदी सरकार कई काम कर रही है। उप्र में ९० दिनों के भीतर गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक चुनाव के घोषणापत्र में भी इसका जिक्र किया गया है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY