चेन्नई। कमल हासन द्वारा अपनी पार्टी मक्कल निधि मय्यम की शुरुआत करने के बाद उनकी पूर्व महिला मित्र और फिल्म अभिनेत्री गौतमी ने कमल हासन के साथ अपने निजी या व्यावसायिक संबंध से इनकार किया है। गौतमी ने एक ब्लॉग लिखकर यह स्पष्ट ीकरण दिया है। इसके बाद अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम(अन्नाद्रमुक) के सदस्यों ने आरोप लगाया कि दोनों अभी भी एक साथ कारोबार कर रहे हैं। अन्नाद्रमुक सदस्य गौतमी के व्यवसाय को मिल रहे पैसे के बारे में भी सवाल उठा रहे हैं।अपने ब्लॉग में गौतमी ने कमल के साथ अपने १३ वर्ष पुराने लंबे रिश्ते में ’’सम्मान की कमी’’ और उन्हें मिले कष्ट के बारे में बात की और इस बारे में बताया है कि कैसे कमल हासन ने अपनी फिल्मों के लिए गौतमी की पेशेवर सेवाओं के लिए भुगतान नहीं किया। कमल हासन और गौतमी के बीच रिश्ते को लेकर कुछ वर्ष पहले कई अफवाहें सामने आई थीं और इसके बाद अक्टूबर २०१६ में दोनों ने अपने रिश्ते को समाप्त करने की घोषणा की थी।अपने हालिया ब्लॉग पोस्ट में गौतमी ने यह भी बताया है कि वे किस प्रकार कैंसर बीमारी से ल़डीं और इस बीमारी के दौरान भी उन्हें कमल हासन से कोई सहानुभूति नहीं मिली। गौतमी ने कहा है कि उनके और कमल हासन के संबंध टूटने का मुख्य कारण यह रहा कि कमल अपने और गौतमी के रिश्ते को लेकर पहले की तरह प्रतिबद्ध नहीं थे और गौतमी के स्वाभिमान को ठेस पहुंचा रहे थे। गौतमी ने कहा है कि वर्ष २०१६ में कमल हासन से अलग होने से काफी पहले ही उन्हें यह लगने लगा था कि अब उनका और कमल का रिश्ता ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगा क्योंकि कमल का उनके प्रति व्यक्तिगत व्यवहार काफी बदल गया था।गौतमी ने लिखा है ‘मेरे रिश्ते के प्रति मेरी प्रतिबद्धता में, मुझे विश्वास था कि हमने मूल्यों और आदर्शों को साझा किया है जो मुझे अपनी सारी जिंदगी में सबसे प्रिय थी। आपसी सम्मान, प्रेम, प्रतिबद्धता और ईमानदारी किसी भी संबंध में अनिवार्य है और विशेष रूप से एक जीवन साझा करने में। और जब यह सब कुछ नहीं हो, तो आत्मसम्मान बिखर जाता है और रोजमर्रा एक असहनीय पी़डा बन जाती है।’’ उन्होंने इस बात का भी खंडन किया कि उनके और कमल के रिश्ते समाप्त होने का कारण कमल हासन की बेटी श्रुति हासन थी। गौतमी ने कहा है कि श्रुति और उनकी बहन अक्षरा दोनों ही काफी अच्छी महिलाएं हैं। गौतमी ने कहा है कि अपने जीवन के करीब १३ वर्षों के दौरान, कॉस्ट्यूम डि़जाइनर के रूप में उन्होंने जो काम किया वह केवल राजकमल फिल्म्स इंटरनेशनल (आरकेएफआई) द्वारा बनाई गई फिल्मों के लिए और उन फिल्मों के लिए जिसे कमल हासन ने लोगों के लिए बनायी। गौतमी ने कहा कि फिल्मों के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइन करना उनकी आय का प्राथमिक स्रोत था क्योंकि कैमरे के सामने और पीछे की उनकी परियोजनाओं को हतोत्साहित किया गया। गौतमी के अनुसार अक्टूबर २०१६ में कमल हासन से अलग होने तक उन्हें विश्वरुपम, दशावतारम जैसी फिल्मों में उनके द्वारा किए गए कार्यों का भुगतान नहीं किया गया था।गौतमी ने यह आरोप लगाया है कि इसी लंबित भुगतान से उनकी बाकी की जिंदगी चलने वाली थी इसलिए उन्होंने कमल हासन और राजकमल फिल्म इंटरनेशनल से यह राशि प्राप्त करने की पूरी कोशिश की लेकिन उनके द्वारा बार-बार अनुरोध करने के बाद भी उन्हें उनके वेतन का बकाया भुगतान नहीं किया गया। उल्लेखनीय है कि गौतमी के इस बयान को कुछ राजनीतिक ध़डों द्वारा एक राजनीतिक स्टंट भी बताया जा रहा है। इस बात को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं कि गौतमी ने यह सब बातें ऐसे समय में क्यों सार्वजनिक की हैं जब कमल हासन ने अपनी नई पार्टी शुुरु करने की घोषणा की है?

LEAVE A REPLY