कोयंबटूर। बुधवार की सुबह कोयंबटूर में भाजपा कार्यालय में दो असामाजिक तत्वों ने पैट्रोल बम से हमला किया। हालांकि इस हमले में कोई भी घायल नहीं हुआ। दोनों असामाजिक तत्व घटनास्थल पर एक एक ऑटो रिक्शा में आए थे। बुधवार की सुबह चार बजे कोयंबटूर के सिद्दापुदुर स्थित भाजपा कार्यालय में बम फेंके। पुलिस ने इस घटना के बारे में पत्रकारों को बताया कि दोनों की मंशा भाजपा कार्यालय के अंदर बम फेंकने की थी लेकिन बम उनके हाथ से छूट गया और भाजपा कार्यालय के अंदर जाने के बदले बाहर ही जा गिरा।ज्ञातव्य है कि भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच राजा द्वारा राज्य के द्रवि़ड नेता ई वी रामसामी, पेरियार और त्रिपुरा में कम्युनिस्ट क्रांतिकारी व्लादिमीर लेनिन की प्रतिमा को गिराने के बारे में की गई टिप्पणी के बाद यह हमला किया गया। यह पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। इसके साथ ही घटना का सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर भी कुछ ही घंटों में वायरल हो गया। कार्यालय पर हमले के बाद भाजपा की स्थानीय इकाई ने एक आपात बैठक बुलाई और इस विषय पर चर्चा की।घटना के बाद चेन्नई के टी नगर स्थित भाजपा मुख्यालय कमलालय सहित अन्य भाजपा कार्यालयों पर सुरक्षा व्यवस्था बढा दी गई है। चेन्नई में पुलिस अधिकारियों ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि एहतियाती कदम उठाते हुए चेन्नई में भी भाजपा मुख्यालय सहित सभी भाजपा कार्यालयों की सुरक्षा बढा दी गई है। हालांकि इस संबंध में अभी तक प्रदेश भाजपा के किसी भी नेता ने कोई बयान नहीं दिया है। सूत्रों के अनुसार भाजपा कार्यकर्ताओं को पार्टी की ओर से धैर्य रखने और किसी भी प्रकार की आक्रामक गतिविधि में शामिल नहीं होने के लिए कहा गया है।इसी क्रम में दोपहर लगभग दो बजे हमला करने वाले आरोपी ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। हमले के बाद से ही पुलिस बम फेंकने वालों की तलाश में लग गई थी। पुलिस ने आरोपी के आत्मसमर्पण करने के बाद कहा कि पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई थी जिसके बाद आरोपी की पहचान कर ली गई थी और पुलिस इन्हें तलाश कर रही थी। पुलिस के सामने जिस आरोपी ने आत्मसमर्पण किया है उसका नाम बालू बताया जा रहा है। वह टीपीडीके पार्टी का सदस्य बताया जा रहा है।पुलिस ने इस संबंध में पत्रकारों से बातचीत में बताया कि इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिसबल मौके पर पहुंच गया और मामले की जांच शुरू कर दी थी। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें दो युवक दिखाई दे रहे थे। पुलिस ने इसी वीडियो के आधार पर आरोपियों की पहचान की और उनकी धरपक़ड तेज कर दी थी। पुलिस ने बताया कि वीडियो में नजर आ रहा था कि दोनों युवक भाजपा कार्यालय के बाहर ख़डे ऑटो के पीछे से निकले और पहले युवक के पैट्रोल बम फेंकते ही बीजेपी दफ्तर से एक शख्स निकला, तभी दूसरे युवक ने भी पैट्रोल बम दफ्तर पर फेंका और दोनों वहां से फरार हो गए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY