कोलार। पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भरोसा दिलाने की कोशिश की है कि अगर आगामी विधानसभा चुनाव के बाद जनता दल (एस) सत्ता में वापसी करता है तो राज्य के किसानों की समस्याएं सुलझाने के लिए २४घंटों के अंदर जरूरी कदम उठाए जाएंगे। किसानों को राष्ट्रीयकृत बैंकों और सहकारी बैंकों से ५१ हजार करो़ड रुपए का फसल ऋण दिलाया जाएगा। वहीं, महिला संगठनों से भी किसानों को ४ हजार करो़ड रुपए का ऋण दिलवाया जाएगा। यहां के अमरज्योति संस्थान में अपनी पार्टी के विभिन्न विकास कार्यक्रमों का उद्घाटन करते हुए कुमारस्वामी ने मुख्यमंत्री सिद्दरामैया पर आरोप लगाया कि उन्होंने अपने पांच वर्षों के कार्यकाल के दौरान मातृत्व कल्याण कार्यक्रमों को भी ठीक ढंग से लागू नहीं किया। वहीं, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के ३६ हजार कर्मचारियों को उनका मासिक वेतन पिछले छह महीनों से नहीं दिया जा सका है। अगर जनता दल (एस) की सरकार बनती है तो यह दोनों काम प्राथमिकता के आधार पर किए जाएंगे।कुमारस्वामी ने अपने चुनावी वादों का पिटारा खोलते हुए कहा कि अगर राज्य की जनता उन्हें अपना आशीर्वाद देती है तो जनता दल (एस) की सरकार वरिष्ठ नागरिकों को ५ हजार रुपए की मासिक पेंशन देगी। वहीं, राज्य के किसानों और छोटे उद्योगों को चौबीसों घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी। युवा वर्ग के लिए रोजगार के पर्याप्त अवसर उत्पन्न किए जाएंगे। उन्होंने इस बात का अफसोस जताया कि राज्य सरकार किसानों की समस्याओं का समाधान करने में पूरी तरह से असफल रही, जिसके कारण कर्नाटक में ३७०० किसानों ने खुदकुशी का रास्ता अपना लिया।

LEAVE A REPLY