बेंगलूरु/दक्षिण भारतकेंद्रीय संसंदीय कार्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अनंतकुमार ने सोमवार को दावा किया कि देश पर आपातकाल थोंपने वाली कांग्रेस को देश के संवैधानिक संस्थानों और यहां के लोकतंत्र पर सवालिया निशान लगाने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। भारत के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ कांग्रेस की अगुवाई में महाभियोग चलाने के प्रस्ताव को उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू द्वारा खारिज किए जाने का समर्थन करते हुए अनंतकुमार ने कहा, ’’कांग्रेस को भारतीय संविधान और लोकतंत्र पर सवाल उठाने का कोई अधिकार नहीं है। इसने मुख्य न्यायाधीश के खिलाफ जो कदम उठाया है, उससे यह स्पष्ट होता है कि स्वतंत्रता के ७० वर्ष बाद भी यह भारतीय संविधान को समझ नहीं सकी है। हम निराश हैं कि कांग्रेस इस प्रकार के कदम उठा रही है। इससे साबित होता है कि इस पार्टी की समझदारी किस दर्जे की है। इस पार्टी ने संविधान के खिलाफ आपातकाल की घोषणा की थी और अब यह ऐसा प्रस्ताव संसद में लाने की कोशिश कर रही है, जो न्यायपालिका के खिलाफ है। न्यायपालिका देश की लोकतांत्रिक शासन प्रणाली के प्रमुख स्तंभों में से एक है।’’।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY