सिरसी। जनता दल (एस) के प्रदेश अध्यक्ष एचडी कुमारस्वामी ने बुधवार को दावा किया कि कर्नाटक में सक्रिय दो प्रमुख राष्ट्रीय पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के शासन में राज्य पूरी तरह से सुरक्षित नहीं रह सकता है। इस वर्ष मई महीने में प्रस्तावित राज्य विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के प्रचार अभियान पर निकले कुमारस्वामी ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में आरोप लगाया कि दोनों राष्ट्रीय पार्टियां भाजपा और कांग्रेस विकास कार्यक्रमों और जनता की समस्याएं सुलझाने के लिए किए गए अपने कामों के बजाय एक-दूसरे पर व्यक्तिगत आरोपबाजी कर रही हैं। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश में जिस समय कानून-व्यवस्था की स्थिति बदहाल है, उस समय वहां के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कर्नाटक में एक रैली के दौरान जनसुरक्षा के विषय में बोलने के लिए आमंत्रित किया जाना किसी विडंबना से कम नहीं है। कुमारस्वामी ने राज्य में सत्तासीन कांग्रेस पार्टी पर भी जमकर निशानेबाजी की। उन्होंने कहा कि इस सरकार के अगुवा मुख्यमंत्री सिद्दरामैया को इतनी फुर्सत नहीं मिलती है कि वह अपने ही विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर सकें, जहां हाल में १५० बच्चों की मौत हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य की मौजूदा कांग्रेस सरकार किसानों के सामने मुंह बाए ख़डे पानी के संकट का समाधान करने में पूरी तरह विफल रही है। बॉम्बे-कर्नाटक क्षेत्र के किसानों के लिए सूखे की समस्या हर वर्ष की बीमारी बन चुकी है। उन्होंने दावा किया कि विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस ने जनता दल (एस) की ताकत को कमतर आंककर इसे हल्के में लेने की भूल की है। आगामी विधानसभा चुनाव में राज्य की जनता इन पार्टियों को जमीनी राजनीति की हकीकत बता देगी। उन्होंने बताया कि अपने दौरे पर उन्होंने विभिन्न जिलों के लोगों की समस्याओं की जानकारी हासिल की है। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया है कि अगर जनता दल (एस) आगामी चुना के बाद राज्य की सत्ता में वापसी करता है तो उनकी स्थानीय समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निराकरण किया जाएगा। यही नहीं, पार्टी द्वारा इन समस्याओं का समाधान करने के लिए उठाए जाने वाले कदमों की भी लोगों को जानकारी दी गई है। उन्होंने इसके साथ ही विश्वास जताया कि विधानसभा चुनाव के बाद जनता दल (एस) अपने दम पर राज्य में सरकार गठित करेगा।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY