मैसूरु। पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डीयुरप्पा ने मुख्यमंत्री सिद्दरामैया द्वारा भ्रष्टाचार पर खुली बहस की चुनौती ठुकरा दी है। मंगलवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में येड्डीयुरप्पा ने कहा कि सिद्दरामैया को भ्रष्टाचार पर बहस के लिए उन्हें (येड्डीयुरप्पा को) चुनौती देने का नैतिक अधिकार नहीं है। उन्होंने इसके साथ ही अपना यह आरोप भी दोहराया कि मौजूदा कांग्रेस सरकार ब़डे पैमाने के भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी हुई है। इसने पिछले पांच वर्षों के दौरान राज्य को जमकर लूटा है। इसके मुखिया को न तो भाजपा सरकार के कार्यकाल के साथ अपने काम की तुलना करने का अधिकार है और न ही पार्टी के प्रदेश प्रमुख के साथ खुली बहस का। भाजपा ने पहले ही मतदाताओं के बीच इस सरकार के खिलाफ अपने आरोप पत्र बांटे हैं। कांग्रेस सरकार उन आरोपों का जवाब जनता के दरबार में दे। विधानसभा चुनाव प्रचार अभियान के दौरान जनता को प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार के बारे में जागरूक करने के लिए भाजपा का आरोप पत्र लगातार बांटा जाएगा। येड्डीयुरप्पा ने दावा किया कि चुनाव में कर्नाटक से कांग्रेस की सरकार उखा़ड फेंककर भारत को कांग्रेस मुक्त किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने पूरे विश्वास के साथ कहा कि सिद्दरामैया चामुंडेश्वरी विधानसभा सीट से चुनाव ल़डते हैं तो उन्हें भारी शिकस्त का सामना करना होगा। उन्होंने कहा, ’’कांग्रेस ने अशोक खेनी को अपनी सदस्यता दी है और शायद उन्हें पार्टी अपने टिकट से भी नवाजेगी। पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौ़डा ने उनके खिलाफ किसानों की हजारों एक़ड कृषि योग्य भूमि जबरन कब्जाने का आरोप लगाया था। अब कांग्रेस चाहती है कि वही किसान अशोक खेनी का अपने नेता के रूप में स्वागत करें। यह पार्टी हर भ्रष्ट राजनेता को अपना बनाने को तैयार है।’’ उन्होंने दावा किया कि जिन नेताओं को आम जनता भ्रष्ट मानती है, उन्हें कांग्रेस की सदस्यता देकर इस पार्टी ने अपनी विश्वसनीयता के साथ समझौता कर लिया है। इस रुख की वजह से कांग्रेस पर लोगों का अब कोई भरोसा नहीं रह गया है। कर्नाटक के राजनीतिक इतिहास में सिद्दरामैया का नाम अंतिम कांग्रेस मुख्यमंत्री के रूप में दर्ज होगा। अगर प्रदेश कांग्रेस में हिम्मत हो तो वह अपने अध्यक्ष राहुल गांधी का दौरा मैसूरु और चामराजनगर जिलों में करवा दे। येड्डीयुरप्पा ने कहा कि राहुल चुनाव प्रचार के लिए जहां कहीं भी जाते हैं, वहां कांग्रेस की चुनावी हार सुनिश्चित हो जाती है। वहीं, एक प्रश्न के उत्तर में येड्डीयुरप्पा ने कहा कि लोकप्रिय कन्ऩड अभिनेता उपेंद्र के भाजपा में शामिल होने के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY