pm narendra modi
pm narendra modi

बलिया/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर बनाने के कारण कथित रूप से ससुराल से निकाली गई बलिया जिले की निवासी एक महिला ने केन्द्र सरकार द्वारा तीन तलाक के खिलाफ अध्यादेश लाए जाने पर खुशी जाहिर की। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुस्लिम औरतों का हितरक्षक करार दिया है। यह वही महिला है जिसे कथित रूप से प्रधानमंत्री मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर बनाने पर उसके ससुराल के लोगों ने घर से बाहर निकाल दिया था।

सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के मटूरी ग्राम की निवासी नगमा ने तीन तलाक पर अध्यादेश लाए जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी की एक और पेंटिंग तैयार कर बधाई दी है। उसका कहना है कि मोदी और योगी रूपी उनके दो भाई देश की लाखों तलाकशुदा मुस्लिम महिलाओं की रक्षा करेंगे तथा उनके जीवन में रोशनी लाएंगे।

नगमा ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि प्रधानमंत्री की ताजा पहल से तलाक का संत्रास झेल रही मुस्लिम महिलाओं को न्याय मिलेगा। मोदी मुस्लिम महिलाओं के ‘हित रक्षक और भगवान’ हैं। उन्होंने विपक्षी दलों से मुस्लिम महिलाओं की पीड़ा को देखते हुए विधेयक को संसद से पारित कराने का अनुरोध किया।

नगमा को पेंटिंग बनाने का बहुत शौक है। जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी की पेंटिंग बनाई तो उनका पति आगबबूला हो गया। नगमा ने कहा कि इसके बाद पति ने उसे बुरी तरह पीटा और घर से निकाल दिया। इसके बाद नगमा ने एक और पेंटिंग बनाई जिसमें वे मोदी और योगी को राखी बांध रही हैं। तीन तलाक के खिलाफ अध्यादेश लाने के बाद देशभर में मुस्लिम महिलाओं ने खुशी का इजहार किया है। सोशल मीडिया पर यह चर्चा है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मुस्लिम महिलाओं के लिए ‘भाईजान’ की भूमिका निभाई है।

ये भी पढ़िए:
बनने से पहले ही महागठबंधन में फूट, छत्तीसगढ़, मप्र और राजस्थान में कांग्रेस के साथ नहीं बसपा
लघु बचत योजनाओं में निवेश पर मोदी सरकार ने दिया तोहफा, बढ़ाईं ब्याज दरें
पाकिस्तान ने बुरहान समेत खूंखार आतंकियों पर जारी किए डाक टिकट, बताया ‘मासूम’ और ‘पीड़ित’
44 साल के शख्स ने 15 साल की लड़की से की दूसरी शादी, शरिया अदालत ने दी इजाजत

LEAVE A REPLY