maryam and nawaz sharif
maryam and nawaz sharif

इस्लामाबाद। भ्रष्टाचार के आरोप में जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज को न्यायालय से बड़ी राहत मिल गई है। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने नवाज शरीफ, मरियम और शरीफ के दामाद की सजा पर रोक लगा दी है। बता दें कि ये तीनों एवेनफील्ड प्रोपर्टीज मामले में जेल में बंद ​थे। इन्हें पाकिस्तान में हुए आम चुनाव से पहले जेल भेजा गया था। उस समय नवाज और मरियम लंदन गए हुए थे। सजा का ऐलान होने के बाद ये लंदन से पाकिस्तान आए और लाहौर हवाईअड्डे से ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

अब इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने उनकी सजा पर रोक लगा दी है। बुधवार को उच्च न्यायालय की बेंच में न्यायाधीश अतहर मिनाल्लाह और हसन औरंगजेब ने अहम फैसला दिया। उन्होंने आदेश दिया कि इन तीनों की सजा पर रोक लगा दी जाए। इस मामले में जिरह पहले ही हो गई थी, जिसके बाद न्यायालय ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। पाकिस्तान में लोग बेसब्री से इस दिन का इंतजार कर रहे थे।

फैसले का ऐलान होने के बाद नवाज शरीफ के समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई। नवाज, मरियम और कैप्टन सफदर (मरियम के पति) को पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने 6 जुलाई को एवेनफील्ड प्रोपर्टीज मामले में दोषी पाया था। उस समय पाकिस्तान में चुनावों का माहौल था। नवाज और मरियम लंदन में थे। नवाज की पत्नी कुलसूम बीमार थीं। फैसला आने के बाद वे कुलसूम को छोड़कर पाकिस्तान आए और गिरफ्तारी दी। नवाज और मरियम का जेल जाना इमरान के लिए फायदेमंद साबित हुआ।

हालांकि इसमें पाकिस्तानी फौज और आईएसआई की भूमिका पर सवाल उठते रहे। ऐसी चर्चा जोरों पर थी कि फौज इमरान को प्रधानमंत्री बनाना चाहती है। अब इमरान प्रधानमंत्री बन गए तो फौज ने नवाज को जेल से बाहर निकाल दिया।

ये भी पढ़िए:
– हमारे खिलाफ संविधान उल्लंघन का एक भी उदाहरण नहीं, देश संविधान से ही चलेगा: भागवत
– महिला हो या पुरुष, जो स्नान करते समय नहीं मानता ये 3 बातें, वह होता है पाप का भागी
– दफ्तर में कुर्सी पर सो रही थीं मंत्री, सोशल मीडिया पर तस्वीर आई तो खूब उड़ा मजाक
– अब इस चेहरे को बॉलीवुड में लॉन्च करेंगे सलमान, ट्वीट कर दी जानकारी
– इन दिनों हाथों में पोस्टर लेकर किस लापता लड़की को ढूंढ़ रहे हैं शरमन जोशी?

LEAVE A REPLY