marriage when flood in kerala
marriage when flood in kerala

मडिकेरी/दक्षिण भारत। कोडगु जिले के लोगों ने जीवन की राह में अपनी जिंदादिल कदमों का एक बार फिर से परिचय दिया है। बारिश और बाढ़ से बचाकर राहत शिविरों में रखे गए लोग तमाम आपदाओं के बावजूद उत्सव-त्योहारों की खुशी मनाने से नहीं चूके। इसके साथ ही एक ऐसी कन्या की राहत शिविर में ही सगाई करवाई गई, जिनके अभिभावकों ने बाढ़ की चपेट में अपना सर्वस्व खो दिया है।

जीवन से इस प्रेम और लोगों की जिजीविषा ने एक बार फिर से इस बात का भी ध्यान दिलाया है कि कोडगु जिला सिर्फ कॉफी के बागानों और खूबसूरत कुदरत के लिए ही नहीं, बल्कि अपने योद्धाओं के लिए भी मशहूर रहा है। यहां के खिलाड़ियों ने ओलिंपिक के लिए भारतीय हॉकी टीमों में अपनी जगह बनाई है। इसी प्रकार की जिंदादिली का नतीजा रहा है कि क्रिकेट हो या एथलेटिक्स या फिर कोई भी अन्य खेल, हर क्षेत्र में कोडगु के लेागों ने अपनी पहचान स्थापित की है और अपनी कभी न मिटने वाली छाप भी छोड़ी है।

जिले के बाढ़ राहत शिविरों में ठहरे लोगों ने 24 अगस्त को पूरे उत्साह के साथ पारंपरिक ‘वर महालक्ष्मी’ उत्सव मनाया। इस उत्सव में शामिल हुए लोगों के चेहरों को देखकर कोई भी यह नहीं कह सकता था कि इनके मन में बाढ़ के कारण अपनी जिंदगी भर की कमाई छिन जाने की टीस रही होगी। अपनी सारी परेशानियां भुलाकर शिविर में आयोजित उत्सव के माहौल में हर व्यक्ति और महिला ने एक-दूसरे को मिठाइयां खिलाईं और उनकी खुशी में शरीक हुए।

वहीं, 26 अगस्त को राखी के मौके पर बहनों ने भाइयों की कलाइयों पर राखियां भी बांधीं। इन बहनों ने उन्हें भी राखियां बांधीं, जो बाढ़ प्रभावित जिले में चल रहे राहत और बचाव कार्यों में जुटे हुए हैं। वहीं, 25 अगस्त को उन्होंने अपने व्यापक हृदय का एक और परिचय दिया। इस दिन राहत शिविर में मंगल गान गूंज उठा, जब बाढ़ प्रभावित दो परिवारों के युवक और युवती ने जीवन भर के परिणय सूत्र में बंधने का निर्णय लेते हुए सगाई कर ली।

अब महीने के अंत में कोडगु जिले के मक्कंदुर की रहने वाली मंजुला और केरल के कन्नूर जिले के रहने वाले राजेश की शादी होने वाली है। जानकारी के मुताबिक, कोडगु जिले में 15 और 16 अगस्त के बीच हुई बेहद भारी बारिश में मंजुला के परिजनों ने अपने घर-मकान के साथ ही जीवन भर की कमाई भी गंवा दी थी।

इस आपदा के बाद मंजुला के मन में कभी विवाह मंडप पर बैठने की आशा बिखर गई थी। वहीं, राहत शिविर में जब लोगों को उनके साथ हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बारे में पता चला तो सबने उन्हें ढाढस बंधाया। उन्होंने मंजुला के मन में निराशा के भाव बैठने का कोई मौका ही न देते हुए आपस में मिलकर उसके विवाह के लिए आवश्यक धन जुटाया।

इसके बाद मडिकेरी के ही एक विवाह मंडप में केरल के युवक राजेश के साथ मंजुला की सगाई करवा दी गई। इस सगाई कार्यक्रम में उन सभी लोगों को आमंत्रित किया गया था जो राहत और बचाव कार्य में जुटे थे।

इसके बाद दोनों ओंकारेश्वर मंदिर जाकर शादी के बंधन में बंध गए। नवविवाहित जोड़े को कोडगु की डिप्टी कमिश्नर पीआई श्रीविद्या, जिले के पुलिस अधीक्षक डी प्रेणेकर और अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने भी बधाइयां दीं।

ये भी पढ़िए:
– शादी को लेकर इस महिला ने दे डाली ऐसी नसीहत, खूब देखा जा रहा यह वीडियो
– इस बैंक में है अकाउंट तो जल्द बदल लें एटीम कार्ड, वजह है बेहद खास
– भोजपुरी गाने पर चांदनी सिंह के डांस ने मचाया धमाल, यूट्यूब पर हिट हुआ यह वीडियो
– वीडियो कॉल पर किया मां का अंतिम संस्कार, पार्सल से मंगवाईं अस्थियां!

Facebook Comments

LEAVE A REPLY