crpf in chhattisgarh
crpf in chhattisgarh

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शनिवार को नक्सलियों के हमले में सीआरपीएफ के चार जवान शहीद हो गए। वहीं दो जवान घायल हुए हैं। यह हमला ऐसे समय में हुआ है जब राज्य में कुछ ही दिनों बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। शहादत पाने वाले इन जवानों का ताल्लुक सीआरपीएफ-168 बटालियन से था। जब ये बीजापुर के मुरदोंडा गांव के करीब पहुंचे तो नक्सलियों ने धमाका कर दिया।

सीआरपीएफ की ओर से इस बात की पुष्टि हो गई है। नक्सल विरोधी अभियान के डीआईजी पी. सुंदर राज ने बताया कि इस हमले में सीआरपीएफ की 168 बटालियन के एक एएसआई, एक हैड कांस्टेबल और दो कांस्टेबल शहीद हुए हैं। घायल हुए दोनों जवानों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह एक आईईडी धमाका था जो अवापल्ली थाना क्षेत्र में किया गया। उन्होंने बताया कि सूचना मिलने के बाद सीआरपीएफ की अतिरिक्त टीमों को अवापल्ली के नजदीक घटनास्थल पर भेजा गया है। इस क्षेत्र को सील कर दिया गया है। यहां तलाशी अभियान शुरू हो गया है।

नक्सलियों ने यह हमला शनिवार शाम को उस वक्त किया जब सीआरपीएफ के ये जवान बीजापुर-मुरदोंडा मार्ग पर गश्त कर रहे थे। यकाय​क हुए जानलेवा धमाके से आसपास का इलाका दहल उठा। नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने के लिए नक्सली गोलीबारी के अलावा आईईडी धमाके का खासतौर पर इस्तेमाल करते हैं। अब तक यहां कई बार आईईडी धमाके हो हुए हैं, जिनमें काफी जवान शहीद हो चुके हैं।

छत्तीसगढ़ में वर्ष 2013 में विधानसभा चुनावों से कुछ माह पूर्व नक्सलियों ने भीषण हमला किया था। उस दौरान 25 लोग मारे गए थे। इसके अलावा अप्रैल 2010 में दंतेवाड़ा के चिंतलनार जंगल में नक्सलियों ने बड़ा हमला किया था, जिसमें सीआरपीएफ के 75 जवान शहीद हो गए थे।

इस समय छत्तीसगढ़ में आचार संहिता लागू है। यहां दो चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं। पहले चरण का ​चुनाव 12 नवंबर और दूसरे चरण का चुनाव 20 नवंबर को होगा। नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे।

ये भी पढ़िए:
– हो गया ऐलान, बिहार में जदयू और भाजपा बराबर सीटों पर लड़ेंगी लोकसभा चुनाव
– जिग्नेश मेवानी ने पार की बेशर्मी की हद, प्रधानमंत्री को कहा ‘नमक हराम’
– चाकू लेकर स्कूल में घुसी महिला ने किया हमला, 14 बच्चे घायल
– सूरत के हीरा व्यापारी ने फिर दिखाई ​दरियादिली, 600 कर्मचारियों को तोहफे में देंगे कार

LEAVE A REPLY