पोर्ट एलिजाबेथ। भारत के कलाई स्पिनरों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चल रही एकदिवसीय सीरीज में नया रिकॉर्ड कायम कर दिया है। दोनों स्पिनरों ने एक सीरीज में भारतीय स्पिनरों द्वारा सर्वाधिक विकेट लेने का १२ साल पुराना रिकॉर्ड तो़डा है।चहल और कुलदीप ने सीरीज में अपना दबदबा इस कदर बनाया कि भारत ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में कोई सीरीज जीत ली। भारत छह मैचों की सीरीज में ४-१ की अपराजेय ब़ढत बना चुका है। लेग स्पिनर चहल और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप ने पांच मैचों में अब तक ३० विकेट झटक लिए हैं जो एक द्विपक्षीय सीरीज में भारतीय स्पिनरों द्वारा सर्वाधिक हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड २००५-०६ में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में था जब भारतीय स्पिनरों ने २७ विकेट लिए थे।कुलदीप अब तक ११.५६ के औसत से १६ विकेट ले चुके हैं जबकि चहल ने १६.०० के औसत से १४ विकेट लिए हैं। इनके बाद अगले गेंदबाज के नाम इनसे आधे विकेट भी नहीं है। ये दोनों स्पिनर वांडरर्स में चौथे वनडे में विफल रहे थे और भारत वह मैच हार गया था।भारत को पोर्ट एलिजाबेथ में पांचवें वनडे में सीरीज में निर्णायक ब़ढत दिलाने में इन दोनों स्पिनरों की प्रमुख भूमिका रही थी जिसमें कुलदीप ने चार और चहल ने दो विकेट झटके थे। कुलदीप के १६ विकेट दक्षिण अफ्रीका में किसी सीरीज में एक स्पिनर द्वारा सर्वाधिक विकेट है। उन्होंने श्रीलंका के करिश्माई आफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन का १४ विकेटों का रिकॉर्ड तो़डा जो उन्होंने १९९८ में पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के साथ त्रिकोणीय सीरीज में बनाया था।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY