नई दिल्ली/भाषाभारत की युगल विशेषज्ञ शटलर एन सिक्की रेड्डी का मानना है कि इस साल के आखिर में होने वाले एशियाई खेलों की बैडमिंटन स्पर्धा में राष्ट्रमंडल खेलों की तुलना में अधिक क़डी चुनौती मिलेगी और इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता में पदक जीतने के लिये उन्हें एक दो उलटफेर की जरूरत प़डेगी। सिक्की ने पीटीआई से कहा, एशियाई खेलों में प्रतिस्पर्धा काफी क़डी है। हमें पदक जीतने के लिये एक दो उलटफेर की जरूरत प़डेगी। जापान और चीन काफी दमदार है। जहां तक अन्य देशों की बात है तो अगर हम अपना शत प्रतिशत देते हैं तो उन्हें हैरान कर सकते हैं और दबाव में ला सकते हैं। एशियाई खेल १८ अगस्त से दो सितंबर के बीच इंडोनेशिया में खेले जाएंगे। चौबीस वर्षीय सिक्की ने गोल्डकोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में मिश्रित टीम स्पर्धा में स्वर्ण और महिला युगल में अश्विनी पोनप्पा के साथ मिलकर कांस्य पदक जीता था। इस प्रदर्शन के बाद उनके नाम की अर्जुन पुरस्कार के लिये सिफारिश की गयी है। सिक्की ने कहा, मुझे लगता है कि मैं इस पुरस्कार की हकदार हूं और पूरी उम्मीद है कि इस बार मुझे यह पुरस्कार मिलेगा। पिछले साल भी मेरे नाम की सिफारिश की गयी थी लेकिन बैडमिंटन में किसी को पुरस्कार नहीं मिला था इसलिए मुझे इस साल पुरस्कार पाने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY