नानजिंग/वार्तापूर्व उपविजेता और १०वीं सीड भारत की साइना नेहवाल अपनी पुरानी प्रतिद्वंद्वी और सातवीं वरीय स्पेन की कैरोलिना मारिन से पार नहीं पा सकीं और शुक्रवार को क्वार्टरफाइनल में हार कर विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप से बाहर हो गईं। साइना को मारिन ने मात्र ३१ मिनट में २१-६, २१-११ से पराजित कर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण विजेता साइना ने इस मुकाबले में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया और पहला गेम ६-२१ से गंवाने के बाद मुकाबले में वापसी नहीं कर पाईं।मिश्रित युगल में सात्विकसेराज रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जो़डी को भी क्वार्टरफाइनल में हार का सामना करना प़डा। भारतीय जो़डी को शीर्ष वरीयता प्राप्त चीनी जो़डी झेंग सीवेई और हुवांग याकियोंग ने मात्र ३६ मिनट में २१-१७, २१-१० से हराकर अंतिम चार में जगह बना ली।मारिन से मुकाबले की पूर्वसंध्या पर साइना ने कहा था कि वह मारिन की चुनौती के लिए तैयार हैं और अपने सर्वश्रेष्ठ खेल का प्रदर्शन करेंगी। लेकिन विश्व चैंपियनशिप में लगातार आठवां क्वार्टरफाइनल खेल रहीं साइना अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से कोसों दूर रहीं। इस हार के बाद साइना का मारिन के खिलाफ ५-५ का करियर रिकार्ड हो गया है। दोनों के बीच आखिरी भि़डंत पिछले साल अक्टूबर में डेनमार्क ओपन में हुई थी जहां साइना ने जीत हासिल की थी। लेकिन विश्व चैंपियनशिप में भारतीय खिला़डी ने समर्पण कर दिया।मारिन ने २०१५ विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में साइना को पराजित कर स्वर्ण जीता था और अब वह सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं।

LEAVE A REPLY