nobel prize in medicine 2018
nobel prize in medicine 2018

स्कॉटहोम/वार्ता। चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए अमेरिका के जेम्सपी एलिसन और जापान के तोसुकु होंजो को वर्ष 2018 के मेडिसिन के नोबल पुरस्कार से सम्मानित किये जाने की सोमवार को घोषणा की गई। इस वर्ष के दिए जाने वाले नोबल पुरस्करों की यह पहली घोषणा है।

एलिसन यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सॉस और होंजो जापान की क्योटो यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर हैं। दोनों वैज्ञानिकों ने कैंसर के इलाज में नई पद्धति ईजाद की है जो इलाज के दौरान रोगी की प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ने वाले विपरीत असर से रोकने से संबंधित है।

उन्हें स्वीडन के कारोलिन्सका इंस्टीट्यूट ने बयान जारी करके बताया कि दोनों को 90 लाख क्रोना (10 लाख डॉलर) पुरस्कार स्वरूप दिए जाएंगे। एलिसन का जन्म सात अगस्त 1948 को अमेरिका के टेक्सास में हुआ था। उनकी महत्वपूर्ण पुस्तक ‘कैंसर इम्यूनोथैरेपी’ है।

उन्होंने उस प्रोटीन पर अध्ययन किसा है जो मानव रोग प्रतिरोधक क्षमता को खत्म करने में मुख्य कारक की भूमिका में है। उन्होंने इम्यून सिस्टम के नेगेटिव सेल्स को खत्म करके कैंसर के ट्यूमर को खत्म करने के विभिन्न तरीकों पर काम किया और एक नई उपचार पद्धति ईजाद की है। यह कैंसर के खिलाफ नायाब पद्धति है और इससे कैंसर के रोगियों में नई उम्मीद जगी है।

ये भी पढ़िए:
– किसी रहस्यमय बीमारी के शिकार हो गए मुशर्रफ? तेजी से गिरी सेहत, वरिष्ठ नेता का दावा
– छोटे कारोबारियों को मोदी सरकार देगी बड़ी सौगात, बिना बैंक गए 1 घंटे में मिलेगा लोन
– वीडियो: प. बंगाल में तृणमूल कार्यकर्ता बेलगाम, मीडिया के सामने महिला को बुरी तरह पीटा
– रेहड़ी वाले के बैंक खाते में मिले 2.25 अरब रुपए, जानकर हर कोई र​ह गया हैरान!

LEAVE A REPLY