karti chidambaram
karti chidambaram

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए उनकी 54 करोड़ की संपत्ति और बैंक जमा को जब्त कर लिया है। उन पर यह कार्रवाई आईएनएक्स मीडिया से जुड़े मामले में हुई है। कार्ति की यह संपत्ति दिल्ली, ऊटी, कोडिकनाल, ब्रिटेन और बार्सिलोना में है।

इस मामले में कार्ति चिदंबरम ने कहा ​है कि वे उचित कानूनी फोरम पर अपनी बात रखेंगे। उन्होंने दावा किया है कि कानून के सामने ईडी के ये आदेश नहीं ठहर पाएंगे। गौरतलब है कि ईडी ने प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के प्रावधानों के अंतर्गत कार्ति पर 2017 में मामला दर्ज किया था।

कार्ति के खिलाफ दर्ज एफआईआर में कहा गया था कि कार्ति ने पी चिदंबरम के केंद्रीय वित्त मंत्री रहते आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की अनुमति दिलाने की एवज में 3.5 करोड़ रुपए वसूले थे। इसके बाद कार्ति और उनके पिता के खिलाफ विरोध के स्वर उठने लगे थे।

इस कार्रवाई के बाद कार्ति ने ट्वीट कर कहा है कि वे इसके खिलाफ अदालत जाएंगे। उन्होंने इसे पूरी तरह गलत बताया है। कार्ति ने लिखा है कि यह विचित्र आॅर्डर है। संपत्ति जब्त करने जो निर्णय लिया गया है, वह कानून और तथ्यों पर आधारित नहीं है। कार्ति की जब्त की गई संपत्ति की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर आ गई हैं जिन्हें देख लोग कई सवाल उठा रहे हैं।

ये भी पढ़िए:
– पायलट बनते ही युवक ने निभाया वादा, गांव के 22 बुजुर्गों को कराया हवाई सफर
– बांग्लादेश: 2004 के ग्रेनेड कांड में दो पूर्व मंत्रियों समेत 19 लोगों को सजा-ए-मौत
– खूबसूरत लड़कियों के नाम से फेसबुक आईडी बनाकर पाक की आईएसआई ऐसे करवा रही जासूसी
– गरीबी में दिन काट रहे मजदूर की खुली किस्मत, खदान से मिला बेशकीमती हीरा

LEAVE A REPLY