indian army in kashmir
indian army in kashmir

श्रीनगर। घाटी में सुरक्षाबल आतंकियों पर सख्त कार्रवाई कर रहे हैं। इस जंग में लगातार शिकस्त खा रहे आतंकी अब पुलिसकर्मियों के परिजनों को निशाना बना रहे हैं। जानकारी के अनुसार, पिछले ​दो दिनों में ही घाटी में विभिन्न पुलिसकर्मियों के 10 परिजनों को अगवा कर लिया गया है। इन घटनाओं के पीछे आतंकी संगठनों का हाथ बताया जा रहा है।

विभिन्न रिपोर्टों में यह बताया गया है कि सुरक्षाबलों से सीधे टक्कर लेने पर आतंकियों को भारी नुकसान हुआ है। इसलिए अब वे रणनीति बदल रहे हैं। उन्होंने पुलिसकर्मियों के परिजनों का अपहरण शुरू कर दिया है। वे इस हरकत को सुरक्षाबलों पर दबाव डालने के तरीके के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। साथ ही घाटी में खुद के घट रहे असर में इजाफा करना चाहते हैं।

चूंकि सुरक्षाबल एलओसी और दूसरे इलाकों में बड़ी तादाद में आतंकियों का खात्मा कर चुके हैं। इसके बाद आतंकियों ने जवानों का उस वक्त अपहरण करना शुरू कर दिया जब वे निहत्थे होते थे या छुट्टी के मौके पर अपने घरों को लौट रहे होते। जांबाज औरंगजेब भी ऐसी ही स्थिति में शहीद कर दिए गए थे। वे ईद की छुट्टियों पर घर लौट रहे थे। हालांकि उसके फौरन बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मार गिराया।

अब आतंकी जवानों के ​परिजनों को निशाना बना रहे हैं। इससे उनकी बौखलाहट मालूम होती है। अपहरण की घटना के बाद सेना ने बड़े स्तर पर सर्च आॅपरेशन चलाया है। जिन लोगों का अपहरण किया गया है, वे पुलिसकर्मियों के परिजन और करीबी रिश्तेदार हैं। चूंकि इस समय जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव की तैयारियां चल रही हैं। ऐसे में आतंकी चुनाव प्रक्रिया को अवरुद्ध करना चाहते हैं।

ये भी पढ़िए:
– नकली बाजूबंद गिरवी रख कई ज्वैलर्स से की 2 करोड़ की ठगी, अपनाया यह शातिर तरीका
– सेहत के लिए आज ही अपना लें ये अच्छी आदतें वरना वक्त से पहले आ जाएगा बुढ़ापा
– सोशल मीडिया पर खुराफात, अटलजी के नाम पर उड़ा दी यह अफवाह
– गूगल दे रहा एक लाख रुपए तक का इनाम, आपने पढ़ा क्या?

Facebook Comments

LEAVE A REPLY