बेंगलूरु/दक्षिण भारतशुक्रवार को तेरापंथ भवन गांधीनगर में साध्वीश्री कंचनप्रभाजी के सान्निध्य, में, तेरापंथ महासभा के अध्यक्ष हंसराज बेताला, मंत्री विनोद बैद के निर्देशन में बेंगलूरु की विभिन्न तेरापंथ सभा व उपनगरीय सभाओं की विशेष संगोष्ठी आयोजित की गई। इस मौके पर साध्वीश्री कंचनप्रभाजी ने कहा कि तेरापंथ महासभा के अध्यक्ष बेंगलूरु की संगठन यात्रा पर आए है जो कि हम सभी के लिए गौरव का विषय है। हमारे धर्म संघ के अष्टमाधिशास्ता आचार्य श्री कालूगणी के शासन काल में जैन श्वेताम्बर तेरापंथ महासभा का गठन हुआ तब से १०५ वर्ष से यह महासभा निरन्तर गतिमान् है। इस महासभा को गणाधिपतिश्री तुलसी तथा आचार्यश्री महाप्रज्ञजी का आध्यात्मिक नेतृत्व मिला तथा वर्तमान में आचार्य श्री महाश्रमण जी का नेतृत्व प्राप्त है। आचार्यश्री महाश्रमणजी ने इस महासभा को संस्था शिरोमणि महासभा अलंकरण प्रदान किया, यह हमारे समाज की उपलब्धि है। साध्वीश्री ने महासभा के सभी पदाधिकारियों के कार्यों की सराहना की। साध्वीश्री ने स्थानीय तेरापंथ सभा संस्थाओं के कार्यों व समर्पण भाव का उल्लेख करते हुए कहा कि यहां का श्रावक समाज विनीत एवं समर्पित है। गुरू इंगित की आराधना के प्रति सजग है। आचार्यश्री महाश्रमणजी का वर्ष २०१९ का बेंगलूरु चातुर्मास ऐतिहासिक तथा सफलतम बनाने में चातुर्मास प्रवास व्यवस्था समिति के अध्यक्ष मूलचंद नाहर के साथ पूरा समाज जुटा हुआ है। साध्वीश्री मंजुरेखाजी ने कहा कि विनीत, अनुशासित व समर्पित श्रावकत्व की उपलब्धि तेरापंथ की पहचान है। आचार्य भिक्षु की मर्यादा की सफलतम अनुपालना के साथ जैन शासन का गौरव भी है। साध्वीश्री मंजुरेखाजी, उदितप्रभाजी, निर्भयप्रभाजी एवं चेलनाश्रीजी ने शासन भक्तिभरा गीत का संगान किया।महासभा के हंसराज बेताला ने कहा तेरापंथ संघ का संगठन पक्ष मजबूत है क्योंकि हमारा विशाल श्रावक समाज गुरू इंगित के सामने कोई तर्क नहीं करता। आचार्यश्री महाश्रमणजी के चातुर्मास वर्ष २०१९ के चातुर्मास स्थल आचार्य तुलसी महाप्रज्ञ चेतना सेवा केन्द्र का निरीक्षण कर आश्वस्त हुए बेताला ने कहा कि समर्पण भाव के साथ कार्य सम्पादन करना हमारी स्वस्थ परम्परा है। साध्वीश्री के मार्गदर्शन में चल रहे कार्यांे में सामूहिक सहयोग की बात कहीं। विनोद बैद ने तेरापंथ विश्व भारती के बारे में विस्तार से बताया तथा उपस्थित जनों को जु़डने का आह्नान किया। इस कार्यक्रम में यशवंतपुर सभा, राजाजीनगर सभा, विजयनगर सभा, टी. दासरहल्ली, हनुमंतनगर सभा, राजराजेश्वरीनगर सभा, आडुगोडी सभा, महासभा कार्यकारिणी, भिक्षुधाम ट्रस्ट, तुलसी चेतना केन्द्र, तेरापंथ महिला मंडल, तेरापंथ युवक परिषद्, अणुव्रत समिति, टीपीएफ आदि संस्थाओं के पदाधिकारी उपस्थित थे। महासभा ट्रस्टी ज्ञानचंद आंचलिया, महासभा उपाध्यक्ष कन्हैयालाल गिि़डया तथा विजयनगर सभा के अध्यक्ष वंशीलाल पितलिया ने अपने विचार व्यक्त किये। आभार ज्ञापन दीपचंद नाहर ने दिया। मूलचंद नाहर ने महासभा अध्यक्ष बेताला का साहित्य प्रदान कर सम्मान किया।। संचालन तेरापंथ सभा मंत्री प्रकाश लो़ढा ने किया। यशवंतपुर तेरापंथ सभा के अध्यक्ष प्रकाश बाबेल, सभा उपाध्यक्ष कैलाश बोराणा, सुशील चोरि़डया, सभासंगठन मंत्री ललित आच्छा, सहमंत्री सम्पत चावत, कोषाध्यक्ष अशोक कोठारी ने साध्वीश्री एवं महासभा पदाधिकारियों को पत्रिका भेंट की।

LEAVE A REPLY