chinese spy
chinese spy

वॉशिंगटन। दुनिया में अपना दबदबा बढ़ाकर अमेरिका को मात देने के ख्वाब देखने वाला चीन अब सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट्स का इस्तेमाल जासूसी के लिए कर रहा है। यह कोई अनुमान नहीं ​है, बल्कि अमेरिका के काउंटर इंटेलिजेंस के प्रमुख विलियम इवानिना का दावा है। उन्होंने कहा है कि चीन सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट लिंक्डइन के जरिए अमेरिका की जासूसी करने में जुटा है।

इसके लिए वह ऐसे अमेरिकी नागरिकों को ढूंढ़ रहा है जिनके पास सरकार या कारोबार संबंधी गंभीर रहस्य हैं। चीनी खुफिया एजेंसियां लिंक्डइन पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर ऐसे लोगों को फांसने की कोशिश कर रही हैं। बदले में इन्हें धन, उपहार और दूसरी चीजें देने की पेशकश कर रही हैं।

इवानिना ने इस सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट को इस संबंध में आगाह किया है कि उसका इस्तेमाल गलत मकसद के लिए हो सकता है। उनका कहना है कि चीनी एजेंसियां इसके लिए सिर्फ कुछ प्रोफाइल नहीं, बल्कि हजारों प्रोफाइल्स का उपयोग कर उक्त लोगों से संपर्क करने की कोशिश कर रही हैं।

हाल में फर्जी प्रोफाइल्स का मामला काफी चर्चित रहा है। लिंक्डइन के अलावा ट्विटर और फेसबुक पर भी काफी संख्या में फर्जी प्रोफाइल बने हुए हैं। अक्सर इनमें से कुछ का इस्तेमाल फर्जी खबरें फैलाने और देशविरोधी गतिविधियों के लिए किया जाता रहा है। अब अमेरिका चाहता है कि लिंक्डइन ऐसे फेक प्रोफाइल पर लगाम लगाए। यूरोप में भी ऐसी चर्चा है कि चीनी एजेंसियां उनके महत्वपूर्ण पदों पर बैठे लोगों की जासूसी करवा सकती हैं। वहीं चीन ने इस आरोप का खंडन किया है।

ये भी पढ़िए:
– नदी में बहते मिले 500 और 1000 रु. के पुराने नोट, पाने के लिए लोगों ने लगा दी छलांग
– एक दिन में महिलाएं खुद को इतनी बार निहारती हैं आईने में!
– ये हैं कश्मीर में दहशत फैलाने वाले टॉप आतंकवादी, एजेंसियों ने जारी की सूची
– लेडीज़ सैंडलों में छुपाकर विदेश से लाई गई ऐसी चीज, एयरपोर्ट अधिकारियों के भी उड़े होश!

LEAVE A REPLY