hello tractor app
hello tractor app

नई दिल्ली। अगर आप गांव से हैं और खेती-किसानी से जुड़े रहे हैं तो जानते होंगे कि ट्रैक्टर की क्या अहमियत है। अक्सर किसानों को बुआई और कटाई के सीजन में ट्रैक्टर सुविधा पाने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ता है। उनका काफी समय ट्रैक्टर किराए पर लाने में बीत जाता है। इसके अलावा भी जब उन्हें ट्रैक्टर की जरूरत होती है तो काफी भागदौड़ करनी पड़ती है। एक कंपनी ने ग्रामीण भारत में इस संभावना को भांपकर फैसला किया है कि वह ओला, उबर की तरह गांवों में एक नई सर्विस शुरू करेगी। इसके जरिए किसान अपने फोन से ट्रैक्टर बुक कर सकेंगे।

इसके बाद किसान को उस जगह ट्रैक्टर सुविधा मिल जाएगी जहां वह चाहता है। टेक्नोलॉजी कंपनी एरिस ने ‘हैलो ट्रैक्टर’ नामक एप लॉन्च किया है। इससे ट्रैक्टर किराए पर लेने की सुविधा आॅनलाइन उपलब्ध होगी। अगर यह गांवों में कामयाब होती है तो इससे किसानों को बहुत फायदा मिलेगा। साथ ही कंपनी को भी ​कारोबार में बेहतर परिणाम मिलेंगे।

‘हैलो ट्रैक्टर’ एप की सुविधाएं अभी हरियाणा और पंजाब में ही शुरू की गई हैं। चूंकि ये राज्य कृषि के लिए बहुत मशहूर हैं। इसके बाद उत्तर प्रदेश, बिहार सहित दूसरे राज्यों में विस्तार की योजना है। कंपनी का कहना है कि इस एप के माध्यम से किसानों को ट्रैक्टर के अलावा खेती के अन्य उपकरण भी आसानी से मिल जाएंगे। अब तक किसानों को कृषि कार्यों के लिए आसानी से ट्रैक्टर नहीं मिल पाता था।

कंपनी ने कहा है कि उन्होंने नाइजीरिया में इस सर्विस की शुरुआत की थी। वहां यह प्रयोग सफल हुआ। अब वह भारत में कारोबार शुरू करेगी। यहां गांवों में ट्रैक्टर का व्यापक स्तर पर उपयोग किया जाता है। इससे पहले कंपनी ने भारत की कृषि और किसानों की स्थिति का अध्ययन किया। उसके बाद यहां​ विस्तार का फैसला किया। किसानों का कहना है कि यदि एप से ट्रैक्टर बुक करने की प्रक्रिया आसान हो और तय समय पर ट्रैक्टर मिल जाए तो यहां इसके सफल होने की संभावनाएं हैं। कंपनी ने बताया कि उसे भारत में काम करने की अनुमति मिल चुकी है। उसने एप की लॉन्चिंग के लिए ट्वीट किया है।

ये भी पढ़िए:
– पीक से रंगी दीवारें देख कलेक्टर ने मंगवाया बाल्‍टी-कपड़ा और खुद करने लगे सफाई
– क्या आने वाले दौर में खत्म हो जाएगा टीवी?
– ये हैं शिक्षक बसरुद्दीन जिन्होंने ग्रामीण इलाकों में बदली स्कूलों की तस्वीर, मोदी ने की तारीफ
– मच्छरों, भौंकते कुत्तों और गंदगी से परेशान लालू ने वॉर्ड बदले जाने की गुहार लगाई

LEAVE A REPLY