बेंगलूरु/दक्षिण भारतअग्रवाल समाज(कर्नाटक) ने रविवार को सेन्ट जोसेफ आडिटोरियम में हर्षोल्लास से अग्रसेन जयंती मनाई। समाज के अध्यक्ष संजय गर्ग ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि ऐसा समारोह आने वाली पीि़ढयों के बीच हमारे पूर्वजों के मूल्यों और संस्कृति को पुनः सम्मान देने का प्रयास है। यह हम सभी को एक परिवार में एकजुट रखने में मदद करता है। सचिव विजय सराफ ने उपस्थित जनों से शिक्षा व स्वास्थ्य क्षेत्र में आगे ब़ढकर जरुरतमंदों का सहयोग करने की अपील की। कार्यक्रम में अग्रवाल महिला मंडल ने तथा अग्रवाल युवा संघ के सदस्यों ने सभी का स्वागत किया। इस मौके पर समाज के विशिष्ट सदस्यों को समाज सेवा के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए ओमप्रकाश गनेरीवाल, स्वर्गीय अमरनाथ अग्रवाल, गुलाबचंद अग्रवाल, मुरारीलाल सरावगी, रमेश अग्रवाल, आत्माराम मोदी, सतीश मित्तल, महावीरप्रसाद अग्रवाल, सुभाष गोयल, सुभाष बंसल, श्रीमती विमला लाठ, श्रीमती सुचिता अग्रवाल, श्रीमती सीता गोयल, श्रीमती सबिता अग्रवाल को अग्ररत्न सम्मान से सम्मानित किया गया। मयंक अग्रवाल, प्रीतम अग्रवाल, प्रतीक जिंदल एवम् अंकित जिंदल को अग्र प्रतिभा तथा समीक्षा अग्रवाल, मास्टर चिराग अग्रवाल, मास्टर अनिकेत संघी को अग्र कौशल सम्मान से सम्मानित किया गया। सम्मान के बाद सदस्यों के मनोरंजन के लिए राकेश बेदी द्वारा लिखित व निर्देशित पारिवारिक प्रेम व सौहार्द पर आधारित नाटक ‘जब वी सेपरेटेड’’ का मंचन किया गया जिसमें मुख्य किरदार की भूमिका में श्वेता तिवारी, राहुल भूचर और राकेश बेदी थे। राकेश बेदी व श्वेता तिवारी ने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में ब़़़डी संख्या में अग्रवाल समाज के सदस्य परिवार उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY